close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ऋषभ पंत ‘वर्ल्ड क्लास’ मैच विनर, हम उनके साथ संयम से काम रहे हैं: रवि शास्त्री

ऋषभ पंत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में 20 रन का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाए. 

ऋषभ पंत ‘वर्ल्ड क्लास’ मैच विनर, हम उनके साथ संयम से काम रहे हैं: रवि शास्त्री
भारतीय हेड कोच रवि शास्त्री और ऋषभ पंत. (फोटो: IANS)

मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने ऋषभ पंत को ‘वर्ल्ड क्लॉस’ बताते हुए कहा कि टीम मैनेजमेंट उनके साथ संयम से काम कर रहा है. मैनेजमेंट उन्हें हर प्रकार का समर्थन देगा, ताकि वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सफल हो सकें. पिछले कुछ समय से विकेटकीपर-बल्लेबाज पंत (Rishabh Pant) की बल्लेबाजी में निरंतरता की कमी के कारण कड़ी आलोचना हो रही है. ऋषभ पंत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ (India vs South Africa) टी20 सीरीज में 20 रन का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाए. 

रवि शास्त्री ने एक अखबार से कहा, ‘ऋषभ पंत अलग हैं. वे वर्ल्ड क्लास खिलाड़ी और मैच विनर हैं. वनडे और टी20 की बात करें तो दुनिया में बहुत कम खिलाड़ी पंत जैसे हैं. मैं ऐसे पांच खिलाड़ियों को ऊंगलियों पर भी नहीं गिन सकता.’ 

यह भी पढ़ें: बुमराह की कमर क्यों हुई ट्विस्ट, इंग्लैंड के कोच ने 3 तस्वीरें ट्वीट कर बताई वजह 

रवि शास्त्री ने कहा, ‘पंत के बारे में मीडिया लगातार लिख रहा है. सभी विशेषज्ञ लिख रहे हैं, लेकिन भारतीय टीम (Team India) पंत के साथ है. विशेषज्ञों का अपना काम है. वे बोल सकते हैं. पंत स्पेशल खिलाड़ी हैं. वे पहले ही काफी कुछ साबित कर चुके हैं. वे आगे भी सीखेंगे. टीम प्रबंधन अंत तक पंत का समर्थन करेगा.’

भारतीय हेड कोच ने कुछ समय पहले पंत पर बयान देते हुए कहा था कि उन्हें थोड़ी अधिक जिम्मेदारी के साथ खेलना होगा. शास्त्री ने कहा, ‘यह मत कहिए की टीम प्रबंधन, पंत के प्रदर्शन के कारण मैंने वो बयान दिया था. अगर कोई गलती करता है तो मुझे उसे बताने की जरूरत है.’

कोच रवि शास्त्री ने इसके बाद कहा, ‘क्या मैं यहां सिर्फ तबला बजाने के लिए हूं? यह खिलाड़ी वर्ल्ड क्लास है, यह खिलाड़ी किसी भी गेंदबाजी क्रम की धज्जियां उड़ा सकता है. हमें उन्हें समर्थन देना होगा ताकि वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बेहतर कर पाएं.’

बता दें कि एक दिन पहले ही ऑस्ट्रेलिया के डीन जोंस ने पंत को बच्चा करार दिया. उनका लब्बोलुवाब यह था कि पंत को युवा बताकर अन्य युवाओं के मौके छीने जा रहे हैं. दूसरी ओर पंत लगातार मौके गंवा रहे हैं.