देश में पहली बार रक्षा क्षेत्र को मिले 3 लाख करोड़ से ज्‍यादा, जवानों के भत्‍ते में भी इजाफा

2019-20 के लिए रक्षा क्षेत्र को 3,05,296 करोड़ रूपये दिए गए हैं.

देश में पहली बार रक्षा क्षेत्र को मिले 3 लाख करोड़ से ज्‍यादा, जवानों के भत्‍ते में भी इजाफा
(फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली : केंद्रीय वित्‍त, कॉरपोरेट मामले, रेल और कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को संसद में अंतरिम बजट 2019-20 पेश करते हुए घोषणा की कि पहली बार देश का रक्षा बजट 3 लाख करोड़ रुपये से ज्‍यादा का रखा गया है. उन्‍होंने बताया कि 2019-20 के लिए रक्षा क्षेत्र को 3,05,296 करोड़ रूपये दिए गए हैं.

उन्‍होंने यह भी साफ किया कि अगर देश की सीमाओं को सुरक्षित और बेहतर बनाए रखने के लिए अगर जरूरत होगी तो और पैसा दिया जाएगा. हाई रिस्क में ड्यूटी कर देश की रक्षा करने वाले जवानों के साहस को सलाम करते हुए उनके भत्ते में भी इजाफा किया गया है.

ये भी पढ़ें- AC कमरों में बैठे लोग किसानों की हालत नहीं समझते, हमने उनके लिए नीति बनाई : पीयूष गोयल

गोयल ने संसद में कहा कि हमारे सैनिक दुर्गम हालातों में हमारी सीमाओं की रक्षा करते हैं और वे हमारा गर्व और सम्‍मान हैं. लिहाजा सरकार ने उनके सम्‍मान पर महत्‍वपूर्ण रूप से ध्‍यान दिया है. उन्‍होंने कहा कि वक रैंक, वन पेंशन (ओआरओपी) का मुद्दा, जो पिछले 40 सालों से लंबित था, अब इसे हल कर दिया गया है. पिछली  सरकार ने तीन बजटों में इसकी घोषणा की थी, लेकिन 2014-15 के अंतरिम बजट में मात्र 500 करोड़ रूपये का आवंटन किया गया. इसकी तुलना में सच्‍ची भावना के साथ हम पहले से ही 35,000 करोड़ रूपये से ही अधिक आवंटन कर चुके हैं. 

उन्‍होंने कहा वक सरकार सभी सेना कर्मियों की सैन्‍य सेवा वेतनमान (एमएसपी) में महत्‍वपूर्ण रूप से बढोत्‍तरी और अत्‍याधिक जोखिम भरे क्षेत्रों में तैनात नौसेना और वायुसेना कर्मियों को विशेष भत्‍ते दिए जाने की घोषणा कर चुकी है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.