close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

क्रिसमस के दिन शहीद हुए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी को दी गई 'अमेरिकी हीरो' की उपाधि

वह, उसके लिए मजबूती से खड़े रहे, जो हमारी दुनिया में सही है. लेकिन फिर भी दुर्भाग्यवश इस दुनिया में जो गलत है, उसके कारण वह बेहद जल्दी हमें छोड़कर चले गए.

क्रिसमस के दिन शहीद हुए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी को दी गई 'अमेरिकी हीरो' की उपाधि
ड्यूटी के दौरान अमेरिका में जान गंवाने वाले भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी शहीद रोनिल सिंह

सैन फ्रांसिस्को: पिछले सप्ताह ड्यूटी के दौरान एक गैरकानूनी प्रवासी के गोली मारने से जान गंवाने वाले भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी की, शनिवार को उनके अंतिम संस्कार के दौरान सराहना करते हुए उन्हें 'फिजी में जन्मा अमेरिकी हीरो' बताया गया. 33 वर्षीय रोनिल सिंह का अंतिम संस्कार कैलिफोर्निया के न्यूमैन में किया गया. सिंह के लिए मोडेस्टो गिरजाघर में आयोजित प्रार्थना सभा में मोडेस्टो के पुलिस अधिकारी जेफ हार्मन ने कहा, "वह, उसके लिए मजबूती से खड़े रहे, जो हमारी दुनिया में सही है. लेकिन फिर भी दुर्भाग्यवश इस दुनिया में जो गलत है, उसके कारण वह बेहद जल्दी हमें छोड़कर चले गए." 

कैलिफोर्निया में मारे गए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी के परिवार से क्या बोले डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका में फिजी के राजदूत नायाकरूरुबलावु सोलो मारा ने सिंह को "फिजी में जन्मा अमेरिकी हीरो" बताया. न्यूमैन पुलिस विभाग के अधिकारी रोनिल सिंह को 26 दिसंबर को स्थानीय समयानुसार देर रात एक बजे एक गैरकानूनी प्रवासी गुस्ताव पेरेज ने गोली मार दी थी, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी. सिंह जुलाई 2011 में पुलिस विभाग में शामिल हुए थे. अपनी रात की ड्यूटी शुरू करने से कुछ घंटे पहले ही सिंह ने अपने पांच महीने के बेटे और पत्नी के साथ क्रिसमस का जश्न मनाया था.

अंतिम संस्कार के दौरान रोनिल सिंह के भाई और सहयोगियों ने उनकी उपलब्धियों और उनके बेहतरीन व्यक्तित्व का जिक्र किया. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बृहस्पतिवार को सिंह की पत्नी और उनके सहकर्मियों से बातचीत की थी. सिंह के सम्मान में कैलिफॉर्निया राज्य का झंडा भी आधा झुका दिया गया है.