ईरान के विदेश मंत्री जरिफ ने की इस्तीफे की घोषणा, बोले- 'कार्यकाल में रही कमियों के लिए माफी मांगता हूं'
trendingNow1502111

ईरान के विदेश मंत्री जरिफ ने की इस्तीफे की घोषणा, बोले- 'कार्यकाल में रही कमियों के लिए माफी मांगता हूं'

सूत्र के अनुसार, राष्ट्रपति हसन रुहानी ने जरिफ का इस्तीफा मंजूर कर लिया है. हालांकि उनके चीफ ऑफ स्टाफ ने ट्वीट करके जरिफ का इस्तीफा स्वीकार किए जाने संबंधी खबरों का खंडन किया है.

जरिफ ने पिछले 67 महीनों में उनका साथ देने के लिए ईरान की जनता और सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया. (फाइल फोटो)

तेहरान: ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरिफ ने इंस्टाग्राम पर अपने इस्तीफे की घोषणा की है. जरिफ 2015 में अमेरिका सहित अन्य विश्व शक्तियों और ईरान के बीच हुए परमाणु समझौते में मुख्य वार्ताकार थे. जरिफ का इस्तीफा राष्ट्रपति हसन रुहानी द्वारा मंजूर किए जाने के बाद ही प्रभावी होगा. विदेश मंत्री जरिफ ने सोमवार को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर लिखा है, ‘‘मैं सेवा करते रहने की अपनी अक्षमता और अपने कार्यकाल में रहीं सभी कमियों के लिए माफी चाहता हूं.’’ जरिफ ने पिछले 67 महीनों में उनका साथ देने के लिए ईरान की जनता और सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया.

ईरान ने फिर अपने 'दुश्मन' को चेताया, कहा- कोई भी चाल कामयाब नहीं होने दूंगा

मामलों से जुड़े सूत्र के अनुसार, राष्ट्रपति हसन रुहानी ने जरिफ का इस्तीफा मंजूर कर लिया है. हालांकि उनके चीफ ऑफ स्टाफ ने ट्वीट करके जरिफ का इस्तीफा स्वीकार किए जाने संबंधी खबरों का खंडन किया है. गौरतलब है कि जरिफ के इस्तीफे से कुछ ही घंटे पहले सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद और ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई और रुहानी के बीच मुलाकात हुई थी. हालांकि देश की अर्द्ध-सरकारी संवाद समिति आईएसएनए का कहना है कि तीनों नेताओं के बीच हुई मुलाकातों के दौरान जरिफ मौजूद नहीं थे.

भारत के बाद अब इस ताकतवर देश ने भी दी पाकिस्‍तान को चेतावनी, कहा -'गंभीर नतीजे भुगतने होंगे'

वहीं विभिन्न दलों के नेताओं और सांसदों ने रुहानी से अनुरोध किया है कि वह जरिफ का इस्तीफा स्वीकार ना करें. जरिफ अगस्त, 2013 से ही रुहानी के विदेश मंत्री हैं. 2015 में संपन्न परमाणु समझौते में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले जरिफ को मई, 2018 में अमेरिका के समझौता से बाहर चले जाने से करारा झटका लगा.

(इनपुट भाषा)

Trending news