close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इमरान खान ने पाकिस्तान से कहा- भारत के खिलाफ बेखौफ होकर खेलो, डरने की बात नहीं है

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में भारत के खिलाफ बेखौफ होकर खेलने की सलाह देते हुए कहा.

इमरान खान ने पाकिस्तान से कहा- भारत के खिलाफ बेखौफ होकर खेलो, डरने की बात नहीं है
.(फाइल फोटो)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में भारत के खिलाफ बेखौफ होकर खेलने की सलाह देते हुए कहा कि हार के डर के साथ खेलना हमें नकारात्मकता और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है. क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने इमरान की कप्तानी में पाकिस्तान ने 1992 में विश्व कप का खिताब जीता था. इस पूर्व कप्तान ने ट्विटर के जरीये पाकिस्तान की टीम को सफलता का मंत्र दिया. इस पूर्व क्रिकेट दिग्गज ने कहा, ‘‘ हारने की सभी आशंकाओं को दिमाग से निकाल देना चाहिए क्योंकि दिमाग में एक समय में एक ही विचार आ सकता है.

हारने का डर एक नकारात्मक और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है और इससे विरोधी टीम की अहम गलतियों पर ध्यान नहीं जाता. ये सरफराज और पाकिस्तान टीम के लिए मेरे कुछ सुझाव हैं.’’ पाकिस्तान ने हालांकि विश्व कप मुकाबले में भारत को कभी नहीं हराया है. दोनों टीमों के बीच खेले गये सभी छह मैच भारत ने जीते हैं.

हम भाग्यशाली है कि सरफराज के रूप में हमारे पास एक साहसी कप्तान हैं: इमरान 
इमरान ने कहा, ‘‘ हम भाग्यशाली है कि सरफराज के रूप में हमारे पास एक साहसी कप्तान हैं और आज उसे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ जीत की रणनीति के तहत सरफराज को बल्लेबाजों और गेंदबाजों के साथ जाना चाहिए क्योंकि कामचलाऊ बल्लेबाज या गेंदबाज शायद ही कभी दबाव में प्रदर्शन करते हैं, खासकर आज जैसे दबाव वाले मैच में. 

जब पिच में नमी ना हो सरफराज को टास जीतकर बल्लेबाजी करनी चाहिए.’’ पाकिस्तान के कप्तान ने हालांकि इमरान के सुझाव के उलट टास जीत कर क्षेत्ररक्षण का फैसला किया. 

पाकिस्तानी कप्तान सरफराज ने नहीं मानी PM इमरान की सलाह
आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (ICC World Cup) में भारत और पाकिस्तान का रार पुराना है. इसीलिए हर मुकाबले से पहले सिर्फ खिलाड़ियों से लेकर प्रशंसक तक अपनी टीम को सलाह देने से पीछे नहीं रहते. फिर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ऐसा क्यों ना करते, जो खुद विश्व कप जीत चुके हैं. हालांकि, पाकिस्तानी कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) ने उनकी सलाह नहीं मानी और ऐसा करना उन्हें कम से कम मैच के पहले हिस्से में भारी पड़ रहा है.

इनपुट भाषा से भी