भारत ने रोका पानी तो चिल्ला उठा पाकिस्तान, मदद मांगने जा पहुंचा अमेरिका

भारत ने पाकिस्तान के साथ तनाव गहराने के बाद अपने हिस्से के पानी को पाकिस्तान जाने से रोकना शुरू कर दिया है. पहले यह पानी बिना किसी रुकावट के पाकिस्तान को मिल जाया करता था.

भारत ने रोका पानी तो चिल्ला उठा पाकिस्तान, मदद मांगने जा पहुंचा अमेरिका
भारत के साथ सिंधु जल समझौते और इससे जुड़े विवादों पर वार्ता के लिए पाकिस्तान का उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल रविवार को अमेरिका के लिए रवाना.(फाइल फोटो)

इस्लामाबाद: भारत के साथ सिंधु जल समझौते और इससे जुड़े विवादों पर वार्ता के लिए पाकिस्तान का उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल रविवार को अमेरिका के लिए रवाना हुआ. पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, सिंधु जल आयुक्त सैयद मेहर अली शाह के नेतृत्व में गया प्रतिनिधिमंडल वार्ता के दौरान 1960 की संधि पर पूरी तरह से अमल के लिए उपाय करने पर जोर देगा. प्रतिनिधिमंडल पांच दिन अमेरिका में रहेगा. इस दौरान वह भारत की दो पनबिजली परियोजनाओं, किशनगंगा और रातले, की डिजाइन पर अपनी चिंताओं के निवारण के लिए न्यायाधिकरण के गठन की मांग उठाएगा.

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान को भारत द्वारा बनाई जा रही 330 मेगावाट की किशनगंगा और 850 मेगावाट की रातले पनबिजली परियोजनाओं पर आपत्ति है. उसका मानना है कि यह दोनों पनबिजली संयंत्र संधि के खिलाफ हैं.

भारत ने पाकिस्तान के साथ तनाव गहराने के बाद अपने हिस्से के पानी को पाकिस्तान जाने से रोकना शुरू कर दिया है. पहले यह पानी बिना किसी रुकावट के पाकिस्तान को मिल जाया करता था.