झारखंड चुनाव: भाजपा की कोशिश, सीटें बढ़ें इस बार

झारखंड चुनाव भाजपा के लिए आसान नहीं हैं, फिर भी भाजपा का आत्मविश्वास बताता है कि इस बार सीटें बढ़ेंगी   

झारखंड चुनाव: भाजपा की कोशिश, सीटें बढ़ें इस बार

रांची. झारखण्ड विधानसभा चुनाव में आज पांचवें और अंतिम चरण के लिए आज वोट डाले जा रहे हैं. प्रदेश विधानसभा की संथाल परगना की 16 सीटों पर 237 प्रत्याशियों में मुकाबला हो रहा है. इस राजनीतिक रण में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री, और कुछ मंत्रियों का भविष्य इसी चरण में तय होने वाला है. 

आज है प्रदेश विधानसभा की 16 सीटाें पर 237 प्रत्याशियों का मुकाबला 

आज है इस चुनाव मेें सत्ता के लिए होने वाला आखिरी संग्राम. आज की 16 सीटाें के मुकाबले में पर 237 प्रत्याशियों में मुकाबला है जो कि प्रदेश में बनने वाली सरकार का चेहरा तय करेगा. 

भाजपा की प्रदेश में सीटें बढ़ाने की कवायद

 इस चुनाव में गठबंधन 9 सीटों पर और भाजपा 6 पर अपने कब्ज़े का सीधा दावा कर रही हैं. भाजपा ने इस बार के चुनावों में गजब का आत्मविश्वास दर्शाया है. इसी की एक बानगी इस बार प्रदेश में पार्टी के अपनी सीटें बढ़ाने का लक्ष्य तय करने के संकल्प में नज़र आती है. 

महागठबंधन पर सीटें बचाने का दबाव 

प्रदेश के महागठबंधन में आत्मविश्वास की कमी नज़र आ रही है. इस बात का मुजाहिरा इस बात से मिलता है कि महागठबंधन ने अपनी सीटें बढ़ाने का लक्ष्य नहीं रखा बल्कि इस चुनाव में अपनी सीटें बचाने की दिशा में कोशिश जारी रखी है. 

झामुमो के हेमंत सोरेन को भाजपा की चुनौती

इस बार के चुनाव झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन के लिए आसान बिलकुल नहीं हैं और ये बात वे स्वयं भी जानते हैं. भाजपा ने उनको न केवल घेरने की पूरी तैयारी कर रखी है बल्कि उनको शिकस्त देने की हर योजना पर काम भी पूरा किया है.