चीन-पाक को भारी पड़ेगी भारत के खिलाफ साज़िश

PoK में कम से कम तीन जगहों पर पाकिस्तान ज़मीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलों की तैनाती कर रहा है ताकि वो भारत के फाइटर जेट्स को निशाना बना सके.इन साइट्स पर पाकिस्तानी सैनिकों के साथ ही चीनी सैनिकों की भी मौजूदगी दिख रही है.इस साइट पर 120 पाकिस्तानी सैनिकों के साथ ही कम से कम 10 चीनी सैनिक मौजूद हैं जिसमें से 3 अधिकारी रैंक के हैं. 

Written by - Brijesh Gopinath | Last Updated : Oct 8, 2020, 11:54 AM IST
    • पाकिस्तान पीओके के अंदर बाग इलाके में इसका हेडक्वार्टर बना रहा है
    • भारतीय सेना में एटमी ताकत वाली शौर्य़ मिसाइल को शामिल करने को मंजूरी दे दी गई है.
चीन-पाक को भारी पड़ेगी भारत के खिलाफ साज़िश

नई दिल्लीः  सीमा पर भारत की तैयारियों से घबराए चीन पाकिस्तान अब एकसाथ मिलकर साज़िश रचने में जुटे हैं.जानकारी के मुताबिक पीओके में पाकिस्तान मिसाइल की तैनाती कर रहा है जिसे लगाने में चीन उसकी मदद कर रहा है.चीन पाकिस्तान की किसी भी हिमाकत का जवाब देने के लिए भारत भी पूरी तरह तैयार है. 

पाकिस्तान को मिला चीन का साथ
पाक पीएम इमरान खान भारत को लगातार परमाणु युद्ध का डर दिखाने की कोशिश करते रहे हैं लेकिन असलियत ये है कि एक मिसाइल तक डिप्लॉय करने के लिए उसे चीन की ज़रूरत पड़ती है.दुनिया के दो सबसे धूर्त देश अब साथ मिलकर भारत को दबाने की कोशिश कर रहे हैं.

खुफिया जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान पीओके में जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलों की तैनाती कर रहा है.इसके लिए उसे चीन से मदद मिल रही है. 

यह भी पढ़िएः Indian Airforce Day: बालाकोट में एयर स्ट्राइक करने वाले योद्धा हुए सम्मानित

पीओके में पाक मिसाइल की तैनाती
जानकारी के मुताबिक PoK में कम से कम तीन जगहों पर पाकिस्तान ज़मीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलों की तैनाती कर रहा है ताकि वो भारत के फाइटर जेट्स को निशाना बना सके.इन साइट्स पर पाकिस्तानी सैनिकों के साथ ही चीनी सैनिकों की भी मौजूदगी दिख रही है.इस साइट पर 120 पाकिस्तानी सैनिकों के साथ ही कम से कम 10 चीनी सैनिक मौजूद हैं जिसमें से 3 अधिकारी रैंक के हैं. 

खबर है कि पाकिस्तान पीओके के अंदर बाग इलाके में इसका हेडक्वार्टर बना रहा है, जो एलओसी से ज्यादा दूर नहीं है.PoK में लसाडना ढोक के पास पाउली पीर में निर्माण कार्य चल रहा है.सूत्रों के मुताबिक चिनार गांव और PoK के हटियन बाला जिले के चकोठी गांव में भी इसी तरह का निर्माण किया जा रहा है.पाकिस्तान पर चीन का किस हद तक कंट्रोल है वो इससे समझा जा सकता है कि चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी की टुकड़ियों को पाकिस्तान के 12 इंफेन्ट्री ब्रिगेड के साथ PoK के देओलियन और जुरा के आगे के क्षेत्रों में साथ-साथ टोह लेते देखा गया. 

यही नहीं जगलोट से गौरी कोट तक चीन के इंजीनियर एक सड़क का निर्माण भी कर रहे हैं और इसे गुलेरी तक बढ़ाए जाने की संभावना है.दरअसल चीन को जिस तरह का जवाब लद्दाख में मिला उसके बाद से उसके हौसले पस्त हैं.यही वजह है कि वो पाकिस्तान के साथ मिलकर भारत को घेरने की कोशिश कर रहा है लेकिन इनकी किसी भी गुस्ताखी का जवाब देने के लिए भारत भी पूरी तरह तैयार है. 

यह भी पढ़िएः Air Force Day: भारतीय वायुसेना का जन्मदिन आज, जानिए कितने ताकतवर हैं आकाश के प्रहरी

भारत देगा करारा जवाब
भारत ने चीन और पाकिस्तान को अल्टीमेटम दे दिया है.भारतीय सेना में एटमी ताकत वाली शौर्य़ मिसाइल को शामिल करने को मंजूरी दे दी गई है.700 किमी तक मार करने वाली सुपरसोनिक मिसाइल शौर्य पलक झपकते ही दुश्मन को तबाह कर सकती  है.भारत ने इससे पहले स्वदेश में विकसित लेजर चालित एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल का एक बार फिर सफलतापूर्वक परीक्षण किया जो लंबी दूरी तक निशाना साधने में सक्षम है.भारत ने हाल ही में सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का सफलतापूर्वक परीक्षण किया.भारत-रूस की ब्रह्मोस मिसाइल की मार करने की क्षमता करीब 400 किलोमीटर है. 

ज़ाहिर है भारत की डिफेंस तैयारियों को देखकर पाकिस्तान और चीन दोनों की धड़कनें बढ़ रही हैं.दोनों ही देश गीदड़भभकी देने और साज़िश रचने में लगे हैं,लेकिन सच्चाई उन्हें भी पता है कि अगर भारत के खिलाफ कोई भी हिमाकत की तो दोनों को ही ये काफी भारी पड़ेगी. 

.यह भी पढ़िएः बदहाल पाकिस्तान अपनी नौसेनिक ताकत चौगुनी करने में बर्बाद कर रहा है पैसा

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप. जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा...

नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-
Android Link -

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़