देश भर में कोरोना से हाहाकार, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री को लिखी चिठ्ठी

पिछले 24 घंटे में 2 लाख 61 हजार से ज्यादा नए कोरोना केस सामने आए हैं. इसी दौरान 1501 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण की वजह से हुई. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 18, 2021, 11:07 PM IST
  • कोरोना ने रखा विकराल रूप
  • मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी को दिये 5 सुझाव
देश भर में कोरोना से हाहाकार, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री को लिखी चिठ्ठी

नई दिल्ली: देश भर में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन कहर बरपा रहा है. बीते 24 घंटे में पूरे भारत में 2 लाख 60 हजार से भी अधिक नये कोरोना के केस आये. बेहद डरावनी तस्वीरें महाराष्ट्र, दिल्ली, पंजाब और उत्तरप्रदेश से आ रही हैं. इस बीच पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है.

24 घन्टे में रिकॉर्ड नये केस

पिछले 24 घंटे में 2 लाख 61 हजार से ज्यादा नए कोरोना केस सामने आए हैं. इसी दौरान 1501 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण की वजह से हुई. इससे पहले 15 सितंबर को सबसे ज्यादा 1290 मौत हुई थी. वहीं देशभर में अब तक 12 करोड़ 26 लाख से ज्यादा लोगों का कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) हो चुका है.

मनमोहन सिंह ने केंद्र को दिए 5 सुझाव

मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को पत्र लिखकर वैक्सीनेशन अभियान को आगे बढ़ाने का आग्रह किया.

मनमोहन सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार आपात जरूरतों के आधार पर वितरण के लिए 10 प्रतिशत रख सकती है. लेकिन इसके अलावा, राज्यों के पास संभावित उपलब्धता का स्पष्ट संकेत होना चाहिए, ताकि वे अपने हिसाब से वितरण की योजना बना सकें.

ये भी पढ़ें- बदनसीब क्रिकेटर को 34 साल की उम्र में मिला IPL में डेब्यू करने का मौका, आंकड़े देख हैरान रह जाएंगे आप

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि समय कानून में अनिवार्य लाइसेंसिंग प्रावधानों को लागू करने का है, ताकि कई कंपनियां एक लाइसेंस के तहत टीकों का उत्पादन कर सकें. चूंकि घरेलू आपूर्ति सीमित है, किसी भी टीका है कि यूरोपीय चिकित्सा एजेंसी या यूएसएफडीए जैसे विश्वसनीय अधिकारियों द्वारा उपयोग के लिए मंजूरी दे दी गई है, तब घरेलू ब्रिजिंग टेस्ट पर जोर दिए बिना आयात करने की अनुमति दी जानी चाहिए.

पीएम मोदी के नाम लिखे पत्र में मनमोहन सिंह ने कहा कि हम एक अभूतपूर्व आपातकाल का सामना कर रहे हैं और विशेषज्ञों का मानना है कि यह छूट एक आपात स्थिति में जायज है. यह छूट सीमित अवधि के लिए हो सकती है, जिसके दौरान भारत में ब्रिजिंग टेस्ट पूरे किए जा सकते हैं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़