ट्विटर ने कड़ा कदम उठाते हुए 6,000 अकाउंट को किया बंद

ट्विटर ने आपत्तिजनक कंटेंट डालने वाले यूजर्स को देखते हुए 6,000 अकाउंटस को बंद कर दिया है. साथ ही कई यूजर्स के लिए सूचना भी जारी की है. 

ट्विटर ने कड़ा कदम उठाते हुए 6,000 अकाउंट को किया बंद

मुबंई: ट्विटर ने फिर से एक बार कड़ा कदम उठाते हुए 6,000 अकाउंट्स को बंद कर दिया है. ये सारे अकाउंटस जिसे भी बंद किया गया है वो सारे सऊदी अरब की हैं. अकाउंट बंद करने को लेकर ट्विटर ने सूचना जारी की और कहा कि ये सारे ऐसे अकाउंटस थे जिन्होंने ट्विटर के नियमों को न मानते हुए उसका उल्लंघन किया. 

CTET का  रिजल्ट आउट, तय समय सीमा से पहले जारी की गई लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

क्यों किया अकाउंटस को बंद

इन यूजर्स का अकाउंट इसलिए प्रतिबंधित कर दिया गया क्योंकि ये अन्य यूजर्स को निशाने पर लेकर ट्रोल कर रहे थे जिसमें कई आपत्तिजनक बात भी कहीं गई थी. लेकिन सऊदी अरब के दूतावास की ओर से अभी तक इस पर कोई बयान नहीं आया है. साथ ही ट्विटर ने  यह भी बताया कि 88,000 ऐसे अकाउंट्स को भी चिन्हित किया गया है जो स्पैम फैलाने का काम करते हैं. और इन अकाउंटस से लगातार खास टॉपिक पर स्पैम कंटेंट डाले जा रहे हैं. जिसे देखते हुए ट्विटर ने यह ठोस कदम उठाया और 6,000 अकाउंट को डिलीट कर दिया. 

इस साल इन देशों के भी यूजर्स के अकाउंट को किया गया बंद

बता दें कि इसी साल 2019 में ट्विटर ने नियमों के उल्लंघन करने के बाद दो लाख चाइनीज अकाउंटस को बंद कर दिया था जो हांगकांग प्रोटेस्ट में शामिल थे. 2016 में भी अमेरिकी चुनाव के दौरान कई अकाउंट्स बंद किए गए थे जो रूस के थे. इन अकाउंटस का इस्तेमाल राजनीतिक पार्टियों को फायदा पहुंचाने के लिए किया जा रहा था. यह अकाउंट सस्पेंशन उसी फैसले का एक हिस्सा है जिसमें सोशल मीडिया कंपनियों ने कहा था कि वह अपने प्लेटफॉर्म पर आपत्तिजनक और गलत सूचना देने वाले कंटेंट को जगह नहीं देंगे.

फ्रॉड से बचने के लिए एसबीआई ने किया अपने नियमों में बदलाव, लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

दिल्ली पुलिस ने भी की अपील

CAA को लेकर आपत्तिजनक कंटेंट लिखने की वजह से दिल्ली पुलिस ने भी फेसबुक और ट्विटर सहित विभिन्न सोशल मीडिया मंचों से करीब 60 खातों से आपत्तिजनक सामग्री हटाने और उन्हें निष्क्रिय करने के लिए पत्र लिखा है. साथ ही पुलिस ने लोगों से अफवाह फैलाने वाले उपयोक्ताओं के खातों की जानकारी देने की भी अपील की है.