दुनिया भर में आतंक पर पिट रहे पाकिस्तान को बांग्लादेश ने भी दिया झटका

आतंकिस्तान नाम से दुनिया भर में कुख्यात पाकिस्तान को बांग्लादेश से भी बड़ा झटका लगा है. वैश्विक स्तर पर हर मुद्दे पर भारत से पिटने वाला पाकिस्तान इस बार बांग्लादेश से बुरी तरह मात खाया है.

दुनिया भर में आतंक पर पिट रहे पाकिस्तान को बांग्लादेश ने भी दिया झटका

दिल्ली: दुनिया भर के आतंकियों को पनाह देने वाला पाकिस्तान अब बांग्लादेश से बुरी तरह बेइज्जत हुआ है. पाकिस्तान की देश में अंतराष्ट्रीय क्रिकेट को फिर से शुरू कराने की उम्मीदों को बड़ा झटका देते हुए बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने कहा कि बांग्लादेश की टीम पाकिस्तान के आगामी दौरे को लेकर भय में है. इसलिये बांग्लादेश पाकिस्तान में टेस्ट मैच नहीं खेलेगा. बता दें कि जब से 2008 में पाकिस्तान में श्रीलंका की टीम पर हमला हुआ है तब कोई भी देश पाकिस्तान में क्रिकेट खेलने का साहस नहीं करता है.

'हम खतरा मोल नहीं ले सकते'

बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा, “खिलाड़ियों और कोचिंग स्टाफ से बातचीत करने के बाद मुझे लगता है कि पाकिस्तान में टेस्ट सीरीज की कोई उम्मीद नहीं है। हमने पहले ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को बता दिया है कि हम केवल टी-20 श्रृंखला के लिए अपनी टीम को भेजने की कोशिश कर सकते हैं।”

2008 में हुआ था श्रीलंका की टीम पर आतंकी हमला

लाहौर में गद्दाफी स्टेडियम के पास लिबर्टी चौक पर मार्च 2009 में श्रीलंका की क्रिकेट टीम को लेकर जा रही एक बस पर तालिबान और एलईजे के आतंकियों ने आधुनिक हथियारों और ग्रेनेडों से हमला किया था. इस हमले में श्रीलंका की क्रिकेट टीम के कप्तान महेला जयवर्द्धने, कुमार संगकारा, अजंता मेन्डिस, तिलन समरवीरा, थरंगा पारनविताना और चामिंडा वास घायल हो गए थे। इस टीम के साथ जा रहे छह पाकिस्तानी पुलिस कर्मी हमले में मारे गए थे.

कोई भी देश पाकिस्तान में नहीं खेलता क्रिकेट

जब से ये हमला हुआ है तब से क्रिकेट का कोई भी शीर्ष देश पाकिस्तान में क्रिकेट नहीं खेलता है. यहां तक कि 2011 क्रिकेट वर्ल्डकप में भी पाकिस्तान से मेजबानी छीन ली गयी थी. बता दें कि एशिया इलेवन की टीम में भी भारत, पाकिस्तान के खिलाड़ियों के साथ शामिल नहीं होना चाहता. बांग्लादेश में वर्ल्ड इलेवन के खिलाफ खेले जाने वाले मुकाबले में टीम इंडिया के खिलाड़ी तभी शामिल होंगे जब पाकिस्तानी खिलाड़ी उसमें ना खेलें. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड भी दोनों देशों के रिश्ते को समझते हुए आपस में सीरीज नहीं आयोजित करता है.

ये भी पढ़ें- पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर का ये मजाक सुनकर आ जाएगी हंसी