close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली-आगरा रोडवेज की अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचेंगे अनिल अंबानी, इतने हजार करोड़ में डील

कंपनी पर 18000 करोड़ से ज्यादा का कर्ज है.

दिल्ली-आगरा रोडवेज की अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचेंगे अनिल अंबानी, इतने हजार करोड़ में डील
इस परियोजना का राजस्व वित्तवर्ष 2017-18 में 25 प्रतिशत बढ़ा था. (फाइल)

नई दिल्ली: अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड ने गुरुवार को कहा कि वह दिल्ली-आगरा टोल रोडवेज की अपनी पूरी हिस्सेदारी 3,600 करोड़ रुपये में सिंगापुर की कंपनी क्यूब हाइवेज को बेचेगी. कंपनी अपना कर्ज कम करने के लिये यह कदम उठा रही है. इससे कंपनी का कुल कर्ज 25 प्रतिशत कम होकर पांच हजार करोड़ रुपये से नीचे आ जाएगा. इस संबंध में उसने क्यूब हाइवेज के साथ अनुबंध किया है.

रिलायंस इंफ्रा ने एक बयान में कहा कि उसने दिल्ली-आगरा टोल रोड प्राइवेट लिमिटेड की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिये क्यूब हाइवेज और इंफ्रास्ट्रक्चर 3 प्राइवेट लिमिटेड के साथ पक्के अनुबंध पर हस्ताक्षर किये हैं. इस सौदे को सभी आवश्यक मंजूरियां लेनी होंगी. दिल्ली-आगरा टोल रोड प्राइवेट लिमिटेड दिल्ली से आगरा को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग-2 के 180 किलोमीटर लंबे छह-लेन वाले खंड का परिचालन करती है. इस परियोजना का राजस्व वित्तवर्ष 2017-18 में 25 प्रतिशत बढ़ा था.

मुकेश अंबानी विश्व के टॉप-10 अमीरों की सूची में शामिल, इतने लाख करोड़ की है संपत्ति

पिछले हफ्ते रिलायंस कैपिटल ने बयान जारी कर कहा था कि वह अगले कुछ महीने में कुल कर्ज का 50 से 60 फीसदी तक तक चुका देगी. उस समय कहा गया था कि इसके लिए अन्य सहयोगी कंपनियों में हिस्सेदारी बेची जाएगी. बता दें, कंपनी के ऊपर करीब 18000 करोड़ का कर्ज है.