Kidney Stone की समस्या है तो ये चीजें भूल से भी न खाएं

अगर आप नहीं चाहते कि आपको किडनी स्टोन की समस्या हो तो कुछ ऐसे फूड्स हैं जिनका आपको सीमित मात्रा में सेवन करना चाहिए और अगर किसी मरीज को किडनी स्टोन हो चुका है तो उन्हें तो पूरी तरह से परहेज करना चाहिए.

Kidney Stone की समस्या है तो ये चीजें भूल से भी न खाएं
किडनी स्टोन में इन चीजों से करें परहेज

नई दिल्ली: अगर आपको कभी किडनी स्टोन की प्रॉब्लम हुई हो या परिवार में किसी सदस्य को किडनी स्टोन की दिक्कत हुई तो आप भली भांति जानते होंगे कि इसका दर्द कितना तेज होता है. कई बार तो मरीज के लिए दर्द बर्दाश्त करना नामुमकिन सा लगता है. किडनी स्टोन (Kidney Stone) एक ऐसी बीमारी है जो दोबारा भी हो सकती है. करीब 50 प्रतिशत मरीज ऐसे होते हैं जिनमें एक बार किडनी स्टोन की प्रॉब्लम ठीक हो जाने के बाद 6-7 साल के अंदर दोबारा स्टोन की समस्या हो जाती है. लिहाजा ऐहतियात बरतना बेहद जरूरी है, खासकर खानपान को लेकर.

किडनी स्टोन के मरीज इन चीजों से करें परहेज

अमेरिका के नैशनल किडनी फाउंडेशन की मानें तो यूरिन में मौजूद छोटे-छोटे क्रिस्टल्स जब जमा होकर ठोस पिंड का रूप ले लेते हैं तब किडनी स्टोन की समस्या होती है.  यूरिन में मौजूद कैल्शियम (Calcium) जब ऑक्सलेट (Oxalate) या फॉस्फोरस जैसे केमिकल्स के साथ मिल जाता है तब ऊभी किडनी में स्टोन की समस्या हो सकती है. इसके अलावा किडनी में यूरिक एसिड (Uric Acid) के जमने की वजह से भी कई बार स्टोन की समस्या होने लगती है. अगर आप नहीं चाहते कि आपको किडनी स्टोन की दिक्कत हो तो इन फूड्स का सीमित मात्रा में ही सेवन करें और अगर आपको किडनी स्टोन की समस्या पहले कभी हो चुकी है तब तो आपको इन चीजों से परहेज ही करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- किडनी स्टोन की समस्या को इन घरेलू उपायों से करें दूर

1. पालक- वैसे तो पालक (Spinach) आयरन का बेहतरीन सोर्स है और ढेर सारे विटामिन्स और मिनरल्स से भी भरपूर होता है लेकिन किडनी में स्टोन की समस्या होने पर पालक खाने से बचना चाहिए. इसका कारण ये है कि पालक में ऑक्सलेट होता है जो खून में मौजूद कैल्शियम से खुद को बांध लेता है और किडनी उसे फिल्टर नहीं कर पाती और वह यूरिन के रास्ते शरीर से बाहर नहीं निकल पाता है जिससे किडनी में स्टोन बनता है.

2. जिन चीजों में ऑक्सलेट अधिक होता है- पालक के अलावा चुकंदर, भिंडी, रैस्पबेरीज, शकरकंद, चाय, नट्स, चॉकलेट जैसे फूड्स में भी ऑक्सलेट की मात्रा अधिक होती है. अगर किसी मरीज को किडनी में स्टोन की समस्या हो तो डॉक्टर मरीज को ऑक्सलेट वाली चीजें बिल्कुल न खाने या सीमित मात्रा में ही खाने की सलाह देते हैं.   

3. चिकन, मछली, अंडा- रेड मीट, चिकन, पोल्ट्री, फिश और अंडा- ये कुछ ऐसे फूड्स हैं जिसमें ऐनिमल प्रोटीन (Animal Protein) की मात्रा सबसे अधिक होती है और इन चीजों का अधिक सेवन करने से शरीर में यूरिक एसिड का उत्पादन अधिक होता है. चूंकि प्रोटीन हमारे शरीर के लिए बेहद जरूरी है इसलिए ऐनिमल प्रोटीन की जगह प्रोटीन के प्लांट बेस्ड सोर्स का सेवन करना चाहिए जैसे- टोफू, कीन्वा, चिया सीड्स और ग्रीक योगर्ट आदि.

ये भी पढ़ें- महिलाओं में मौत के खतरे को कम करता है प्लांट बेस्ड डाइट

4. कम से कम नमक- नमक में सोडियम (Sodium) होता है और सोडियम की अधिक मात्रा यूरिन में कैल्शियम को जमाने का काम करती है. लिहाजा खाने में ऊपर से नमक डालने से परहेज करें. इसके अलावा चिप्स, फ्रोजेन फूड आदि जिनमें नमक की मात्रा अधिक होती है उनका भी सेवन करने से बचें.

5. कोला या सॉफ्ट ड्रिंक- कोला में फॉस्फेट (Phosphate) नाम का केमिकल अधिक होता है जिसकी वजह से किडनी में स्टोन बनने की आशंका रहती है. लिहाजा बहुत अधिक चीनी या शुगर सिरप वाले प्रोसेस्ड फूड और ड्रिंक्स का सेवन न करें. सिर्फ नमक ही नहीं बहुत अधिक चीनी- जैसे सुक्रोज और फ्रक्टोज भी किडनी स्टोन के खतरे को बढ़ाती है.

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.