TMC ने कहा, 'अमित शाह का मालदा का भाषण उनकी बेचैनी दर्शाता है'

टीएमसी ने कहा कि ऐसा लगता है कि बीजेपी बेचैन हो गई है और उसे यह अहसास हो गया है कि सत्ता में उसके गिनती के कुछ दिन बचे हैं. 

TMC ने कहा, 'अमित शाह का मालदा का भाषण उनकी बेचैनी दर्शाता है'
तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, 'मालदा में बीजेपी अध्यक्ष का भाषण सुनने के बाद यह स्वाभाविक है कि वे बेचैन हैं. वे जानते हैं कि उनके दिन गिनती के हैं. (फाइल फोटो)

कोलकाता: तृणमूल कांग्रेस ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल के मालदा में अमित शाह के भाषण को 'तथ्यों के लिहाज से कमजोर और शब्दों के लिहाज से घटिया स्तर' का था. पार्टी ने कहा कि ऐसा लगता है कि बीजेपी बेचैन हो गई है और उसे यह अहसास हो गया है कि सत्ता में उसके गिनती के कुछ दिन बचे हैं. 

तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, 'मालदा में बीजेपी अध्यक्ष का भाषण सुनने के बाद यह स्वाभाविक है कि वे बेचैन हैं. वे जानते हैं कि उनके दिन गिनती के हैं. वे राजनीतिक रूप से डरे हुए हैं. उनके भाषणों में तथ्यों की कमी है और स्तर घटिया है.' ब्रायन ने कहा, 'उन्हें (बीजेपी) भारत के लोकाचलन का अंदाज नहीं है. उन्हें बंगाल के लोकाचलन का अंदाजा नहीं है. वे बड़े शून्य की तरफ बढ़ रहे हैं.' 

अमित शाह ने बोला टीएमसी सरकरा पर हमला
इससे पहले शाह ने मालदा में एक रैली के साथ पश्चिम बंगाल में बीजेपी के लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत की, जहां उन्होंने ममता बनर्जी सरकार को सत्ता से हटाने की बात कही.

आगामी लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी के प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए अमित शाह ने मंगलवार को विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा और कहा कि उनका प्रस्तावित महागठबंधन ‘लोभ-लालच’ का गठबंधन है, जिसमें प्रधानमंत्री पद के नौ संभावित उम्मीदवार हैं. 

अमित शाह ने दावा किया कि 20-25 नेताओं को एक मंच पर साथ ले आने से कोई फायदा नहीं होने वाला, क्योंकि नरेंद्र मोदी ही फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे. अमित शाह ने यहां बीजेपी की रैली में कहा, 'लेकिन हमारे पास प्रधानमंत्री पद का एक ही उम्मीदवार है और वह हैं नरेंद्र मोदी.'  

(इनपुट - भाषा)