close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हरियाणा चुनाव: 3 लेयर सुरक्षा में रखी जाएगी EVM, 1977 के बाद अब तक का सबसे कम वोट प्रतिशत

हिसार में ईवीएम को रखने के लिए स्ट्रांग रूम बनाए गए हैं. कड़ी सुरक्षा के पहरे में ईवीएम रखी जाएंगी. 

हरियाणा चुनाव: 3 लेयर सुरक्षा में रखी जाएगी EVM, 1977 के बाद अब तक का सबसे कम वोट प्रतिशत
केंद्रीय रिजर्व बल के साथ साथ हरियाणा पुलिस की तैनाती भी की गई है.

हिसार: हरियाणा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पोलिंग की प्रक्रिया पूरी होने के बाद हिसार में अब ईवीएम को जमा करवाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. हिसार में ईवीएम को रखने के लिए स्ट्रांग रूम बनाए गए हैं. कड़ी सुरक्षा के पहरे में ईवीएम रखी जाएंगी. साथ ही केंद्रीय रिजर्व बल के साथ साथ हरियाणा पुलिस की तैनाती भी की गई है. 3 लेयर सुरक्षा में ईवीएम रखी जाएगी वहीं, स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी रखे हुए हैं. अंदर की तमाम हलचल को बाहर स्क्रीन के जरिये दिखाया जाएगा. हिसार जिला की अगर बात करें तो यहां 7 विधानसभाएं है, जिनमे 1294 बूथ बनाए गए थे. 

हॉट सीटों की अगर बात की जाए तो आदमपुर और नारनोंद दोनों पर सभी की नजर है. आदमपुर से कांग्रेस के प्रत्याशी कुलदीप बिश्नोई मैदान में है, कुलदीप पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय भजन लाल के बेटे है. इसके अलावा नारनोंद सीट की अगर बात की जाए तो यहां से हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु बीजेपी की सीट से चुनावी मैदान में है. फिलहाल ईवीएम स्ट्रांग रूम में जमा होने के लिए पोलिंग पार्टियां बूथों से लेकर वापिस हिसार पहुंचने लगी है. 24 तारीख को अब मतगणना के बाद तमाम प्रत्याशियों के भविष्य का फैंसला होगा. वोटिंग प्रतिशता की अगर बात करें तो हिसार में 54.8 प्रतिशत वोट पोल हुए. इसके अलावा आदमपुर में 73.1, उकलाना में 61, बरवाला में 72.4, हांसी में 66.9, नलवा में 65.2,  नारनोंद में 71.9 प्रतिशत वोट पोल हुए. मसलन, हॉट सीट आदमपुर में सबसे ज्यादा पोलिंग हुई है.

1977 से भी कम प्रतिशत पोलिंग
हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए मतदान की प्रक्रिया सम्पन्न हो गयी. हरियाणा में आज तमाम जगहों पर कुल 11863934 वोट का इस्तेमाल किया गया, हरियाणा में कुल मतदाता 18284618 है. ऐसे में प्रतिशत की अगर बात की जाए तो आज 64.9 प्रतिशत मतदान हुआ है. पिछले 6 चुनावों के मुकाबले कम है. पिछले चुनावों की अगर बात की जाए तो 1991 में वोट परसेंटेज हरियाणा में 65.86 रहा था. लेकिन इससे भी कम मतदान 2019 में अबकी बार हुआ है. पढ़िए, जब से  कब कब कितना वोट परसेंटेज रहा. हरियाणा में चुनाव आयोग की कोशिश थी कि वोटिंग परसेंटेज को बढ़ाया जाए लेकिन तमाम कैंपेनिंग वगैरा आज की परसेंटेज को देखते हुए हवा हवाई लग रही है.