Viral Video: स्टैंडअप कॉमेडियन ने सुनाई अपनी 'सुपरमॉम' की स्टोरी, जीत लिया लोगों का दिल

प्रशस्ति का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है और लोग उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं. 

Viral Video: स्टैंडअप कॉमेडियन ने सुनाई अपनी 'सुपरमॉम' की स्टोरी, जीत लिया लोगों का दिल
(फोटो साभार- वीडियो ग्रैब)

नई दिल्ली : हर साल 8 मार्च को इंटरनेशनल वुमंस डे मनाया जाता है. इस मौके पर एक बेटी ने अपनी मां को ऐसे गिफ्ट दिया है कि वो शायद इसे कभी नहीं भुला पाएंगी. स्टैंडअप कॉमेडियन प्रशस्ति सिंह ने अपनी मां को सुपरमॉम बताते हुए बताया कि कैसे उन्हें हमेशा लगा कि उनकी मां स्ट्रांग नहीं थी. लेकिन जब उनके फादर नहीं रहे थे उन्हें अपनी मां का एक ऐसा रूप देखने को मिला जो शायद उनके पापा कभी देख ही नहीं पाए थे. प्रशस्ति एक स्टैंडअप कॉमेडियन हैं लेकिन उन्होंने जिस तरह से अपनी मॉम की इनर पावर को एक्सप्रेस किया है वो काबिले तारीफ है. प्रशस्ति का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है और लोग उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं. 

प्रशस्ति सिंह ने वीडियो की शुरुआत करते ही बताया कि वो हमेशा से अपने पापा की तरह बनना चाहती थीं. हम में से ज्यादातर लड़कियां हमेशा अपने पापा की तरह ही बनना चाहती हैं. क्योंकि उनमें उन्हें एक हीरो नजर आता है जो अपने परिवार और बच्चों को हर मुसीबत से बचा कर रखता है. पापा वो होते हैं जो बच्चों के चेहरे की खुशी और घर की छत को मजबूत बनाने के लिए अपनी जान लगा देते हैं. यही वजह होती है कि लड़कियां को अपने पिता में जीवन का सार नजर आता है. प्रशस्ति सिंह भी हम आप जैसा ही सोचती थीं. लेकिन जब उनके फादर नहीं रहे तो सबकुछ अचानक से बदल गया और उन्हें अपनी मम्मी के अंदर छुपी वो पावरवुमन देखने को मिली जिसने उन्हें हैरान कर दिया. 

VIDEO: इस स्टूडेंट ने अपने डांस से किया पूरे क्लास को EMOTIONAL, टीचर्स ने भी दिया साथ

जब आखिरी बार पापा ने बनाया मां का मजाक 
प्रशस्ति वीडियो में बताती है कि उनके पापा का फेवरेट जोक हमेशा उनकी मम्मी रहीं. प्रशस्ति कहती हैं कि उनकी मम्मी भी कम नहीं थीं वो उनके पापा को ऐसे मौके देती थीं वो उनका मजाक बनाएं. प्रशस्ति बताती हैं कि मैंने अपनी मम्मी को हमेशा पापा की इन्हीं बातों से जाना था क्योंकि मेरे पापा मेरे लिए हीरो थे और मम्मी उनकी साइड किक. अपने पापा को याद करते हुए प्रशस्ति ने एक याद शेयर करते हुए कहा कि 2011 में वर्ल्ड जीतने की न्यूज आते ही उन्होंने अपने घर फोन किया तो उनके पापा ने कहा कि पटाखों की आवाज सुनकर तुम्हारी मम्मी को लग रहा है अभी टॉस होने जा रहा है. उस दिन आखिरी बार पापा के जोक पर हंसे. पापा सोए और फिर कभी नहीं उठे. 

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 

O ho ho ho hooooooo ishaq tera tadpawe #whyhedisappeared

A post shared by Prashasti Singh (@prashastisingh) on

मां हमेशा से हीरो थीं लेकिन...
प्रशस्ति कहती हैं कि पापा के जाने के बाद जब मैंने अपनी मां को देखा तो मुझे लगा कि ये सब कैसे हैंडल करेंगी? रॉबिन अपने बैटमैन के बिना क्या है? मैं सोचा अब ये घर मेरी जिम्मेदारी है और अब मुझे अपने पापा की जगह लेनी होगी. उस पर रिश्तेदारों ने कहना शुरू कर दिया कि मम्मी अकेले कैसे रहेंगी? तुम नौकरी छोड़कर घर वापस आ जाओ. तुम्हारा रंग साफ है, किसी IAS से शादी करा देंगे. मैं भी मान गई और मम्मी से कहा कि तुम चिंता न करो, मैं वापस आ रही हूं, सब संभाल लूंगी. मेरी मम्मी ने आंसू पोंछते हुए मुझसे कहा कि अपना सामान बांधो और वापस जाओ नौकरी पर, अभी तुम्हारी मां जिंदा है. मुझे लगा मेरी सदमे में कुछ भी बोल रही हैं, अभी चार हफ्ते बाद खुद ही वापस बुला लेंगी. 

लड़के ने सबके सामने कुछ यूं किया लड़की को प्रपोज, VIDEO देख पिघल जाएगा दिल

मम्मी ने पहन लिया अपना सुपरकेप  
प्रशस्ति आगे बताती हैं कि लेकिन ऐसा नहीं हुआ 4 हफ्ते नहीं आज 8 साल हो गए और मम्मी ने सब संभाल लिया. प्रशस्ति कहती हैं कि मुझे ऐसा लगता है कि मम्मी ने अपने मयाके में रख सुपरकेप निकाल लिया और वो हीरो बनकर सामने आईं. अब प्रशस्ति की मम्मी हर वो चीज हैंडल कर रही हैं जिसे पापा की जॉब समझा जाता था. प्रशस्ति कहती हैं कि मां के इस रूप को देखकर हैरान हूं. जब कोई मेरी शादी की निकली उम्र पर सवाल करता है तो मेरी मां उन्हें जवाब में कहती हैं कि जब करनी होगी कर लेगी, खुश रहने का एक ही तरीका नहीं होता. प्रशस्ति कहती हैं कि मैं हमेशा से अपने पापा के जैसा बनना चाहती थी और मुझे जो टैलेंट मिला है, उन्हीं का दिया है लेकिन इसे यहां तक लेकर आने की ताकत मुझे मेरी मां से मिली है. प्रशस्ति का ये एक्ट हर मां को सलाम है.