close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानिए, पीएम नरेंद्र मोदी ने किन 5 नेताओं को चुना प्रमुख 'सिपहसालार', दिए ये अहम मंत्रालय

सुषमा स्‍वराज के बाद पीएम मोदी को विदेश मामलों के एक जानकार की जरूरत थी, जिसे डॉ एस जयशंकर को मंत्रिमंडल में शामिल कर पूरा कर लिया गया है.

जानिए, पीएम नरेंद्र मोदी ने किन 5 नेताओं को चुना प्रमुख 'सिपहसालार', दिए ये अहम मंत्रालय
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी दूसरी पारी में देश के गृह मंत्री रहे राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्रालय सौंपा है.

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी दूसरी पारी के लिए अपने 5 बड़े 'सिपहसालारों' को चुन लिया है. इन सिपहसालारों में राजनाथ सिंह, अमित शाह, पीयूष गोयल, डॉ एस जयशंकर और निर्मला सीतारमण का नाम शामिल है. प्रधानमंत्री ने राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्रालय, अमित शाह को गृह मंत्रायल, पीयूष गोयल को रेलवे मंत्रालय, डॉ.एस जयशंकर को विदेश मंत्रालय और निर्मला सीतारमण को वित्‍त मंत्रालय की जिम्‍मेदारी सौंपी है. 

उल्‍लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में अमित शाह के पास बीजेपी संगठन की जिम्‍मेदारी थी. राजनाथ सिंह को पिछली सरकार में गृह मंत्रायल की जिम्‍मेदारी मिली थी. वहीं बीती सरकार में वित्‍त मंत्री रहे अरुण जेठली का स्‍वास्‍थ्‍य ठीक नहीं होने के चलते, इस बार वित्‍त मंत्रायल का प्रभार निर्मला सीतारमण को दिया गया है. पीएम मोदी के पहले कार्यकाल में निर्मला सीतारमण को रक्षा मंत्रालय की जिम्‍मेदारी सौंपी गई थी. बतौर रक्षामंत्री बालाकोट सर्जिकल स्‍ट्राइक को उनकी बड़ी उपलब्धियों में एक माना जाता है. 

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार में गृह मंत्री होंगे अमित शाह, राजनाथ रक्षा मंत्री, जानिए किसे क्या मिला

वहीं पीयूष गोयल को उनका पुराना रेल मंत्रालय एक बार फिर सौंपा गया है. उनके कार्यकाल में पहली बार पूरी तरह से भारत में निर्मित वंदे भारत एक्‍सप्रेस को सरकार की बढ़ी उप‍लब्धि के तौर पर देखा गया था. इसके अलावा, पहली बार मंत्री बने डॉ. एस जयशंकर को इस बार विदेश मंत्रालय की जिम्‍मेदारी दी गई है. डॉ. एस जयशंकर विदेश मंत्रायल में कई अहम पदों पर काम कर चुके हैं. उल्‍लेखनीय है कि सुषमा स्‍वराज के बाद पीएम मोदी को बेहतर विदेश मामलों के एक जानकार की जरूरत थी, जिसे डॉ एस जयशंकर को मंत्रिमंडल में शामिल कर पूरा कर लिया गया है. 

यह भी पढ़ें: न तो राज्यसभा और न ही लोकसभा के सदस्य हैं, लेकिन मोदी मंत्रिमंडल में मिली यह बड़ी जिम्‍मेदारी

यह भी पढ़ें: मोदी कैबिनेट के ऐसे मंत्री जिन्होंने बस में काटी है टिकट, लोगों के दिल में बनाई जगह

पीएम मोदी मंत्रिमंडल में शामिल अन्‍य कैबिनेट मंत्रियों के विभाग
पीएम मोदी ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को सड़क परिवहन और राजमार्ग मन्त्रालय, सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्रालय दिया है. सदानंद गौड़ा को रसायन और उवर्रक मंत्रालय, रामविलास पासवान को उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री दिया है. नरेंद्र सिंह तोमर को कृषि और किसान कल्याण मंत्री, ग्रामीण विकास तथा पंचायती राज मंत्री, रविशंकर प्रसाद को कानून और न्याय मंत्री, संचार मंत्री तथा इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री दिया गया है. हरसिमरत कौर बादल को खाद्य प्रसंस्करण मंत्री,  थावर चंद गहलोत को सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री; रमेश पोखरियाल 'निशंक' को मानव संसाधन विकास मंत्री बनाया गया है. 

यह भी पढ़ें: इंदिरा गांधी के बाद देश की पहली महिला वित्त मंत्री बनीं निर्मला सीतारमण

मंत्रिमंडल में शामिल अर्जुन मुंडा को जनजातीय मामलों से जुड़ा मंत्रालय; स्मृति ईरानी को महिला एवं बाल विकास मंत्री और कपड़ा मंत्री; डॉ. हर्षवर्धन को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री बनाया गया है. वहीं, प्रकाश जावड़ेकर को सूचना और प्रसारण मंत्री, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री; धर्मेंद्र प्रधान को पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री तथा इस्पात मंत्री; मुख्तार अब्बास नकवी को अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री; प्रहलाद जोशी को संसदीय कार्य मंत्री, कोयला मंत्री; महेंद्र नाथ पांडे को कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री; अरविंद सावंत को भारी उद्योग और सार्वजनिक उद्यम मंत्री; गिरिराज सिंह को पशुपालन, डेयरी एवं मत्‍स्‍य विभाग और गजेंद्र सिंह शेखावत को जल शक्ति मंत्रालय दिया गया है.