close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: जानें होशंगाबाद लोकसभा सीट के बारे में

2009 में उदय प्रताप ने कांग्रेस की टिकट पर होशंगाबाद लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था और जीत भी हासिल की थी, लेकिन 2014 में वह बीजेपी से लड़े और जीते भी. होशंगाबाद से पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा भी सांसद रह चुके हैं.

लोकसभा चुनाव 2019: जानें होशंगाबाद लोकसभा सीट के बारे में
होशंगाबाद से वर्तमान सांसद उदय प्रताप सिंह (फोटो साभारः facebook)

नई दिल्लीः पर्यटन और सोयाबीन की खेती के लिए मशहूर होशंगाबाद बीजेपी का मजबूत गढ़ माना जाता है. होशंगाबाद लोकसभा सीट से वर्तमान सांसद बीजेपी के उदय प्रताप सिंह हैं. 2014 के चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के देवेंद्र पटेल को हराकर बीजेपी को जीत दिलाई थी. बता दें इससे पहले 2009 में उदय प्रताप ने कांग्रेस की टिकट पर होशंगाबाद लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था और जीत भी हासिल की थी, लेकिन 2014 में वह बीजेपी से लड़े और जीते भी. होशंगाबाद से पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा भी सांसद रह चुके हैं.

राजनीतिक इतिहास
होशंगाबाद लोकसभा सीट पर पहला चुनाव 1951 में हुआ, जिसमें कांग्रेस को जीत मिली थी. इसके बाद 1952 के उपचुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी एचवी कामथ ने कांग्रेस उम्मीदवार सैयद अहमद को हराया था. फिर 1957 में यहां कांग्रेस ने वापसी की और 1958 के उपचुनाव में भी जीत दर्ज कराई. 1962 में प्रजा सोशलिस्ट पार्टी को जीत मिली, 1967 और 1971 में कांग्रेस, 1977 में भरतीय लोकदल, 1980 और 1984 में फिर कांग्रेस ने यहां जीत दर्ज कराई.

लोकसभा चुनाव: बुंदेलखंड का भयंकर सूखा नहीं, जाति और कानून-व्यवस्था है झांसी में मुद्दा

1989 के चुनाव में भाजपा ने एंट्री की और सरताज सिंह यहां के सांसद बने. इसके बाद 1991, 1996 और 1998 के चुनावों में भी सरताज सिंह ही यहां से सांसद चुने गए. इसके बाद 1999 में बीजेपी के ही सुंदरलाल पटवा ने होशंगाबाद में जीत दर्ज कराई तो 2004 में फिर सुंदरलाल पटवा ने बीजेपी उम्मीदवार के तौर पर विजय हासिल की. 2009 में यहां कांग्रेस के उदय सिंह विजयी रहे, लेकिन 2014 के चुनाव में उन्होंने बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ने का फैसला लिया और जीते भी.

मतदाता संख्या
चुनाव आयोग के आंकड़े के मुताबिक, 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान यहां पर 15,68,127 मतदाता थे. इनमें से 7,32,635 महिला मतदाता और 8,35,492 पुरुष मतदाता थे. बता दें 2014 के चुनाव में इस सीट पर 65.76 फीसदी मतदान हुआ था. 

PM मोदी की रैली में पहुंचे अनंत, पिता मुकेश अंबानी कर चुके हैं कांग्रेस प्रत्याशी देवड़ा का समर्थन

2014 चुनाव नतीजे
2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के उदय प्रताप सिंह ने 3,89,960 मतों के अंतर से कांग्रेस के देवेंद्र पटेल को यहां से हराया था. इस चुनाव में उदय प्रताप सिंह को 6,69,128 वोट मिले थे, वहीं देवेंद्र पटेल को 2,79,168 वोट (27.07 फीसदी) वोट मिले थे.