close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महात्‍मा गांधी कांग्रेस को समाप्‍त करना चाहते थे, हमारी सरकार उसी राह पर चल रही है: PM मोदी

अपने ब्‍लॉग 'जब एक मुट्ठी नमक ने अंग्रेजी साम्राज्य को हिला दिया' में कांग्रेस पर तीखा वार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने महात्मा गांधी के विचारों के विपरीत काम किया.

महात्‍मा गांधी कांग्रेस को समाप्‍त करना चाहते थे, हमारी सरकार उसी राह पर चल रही है: PM मोदी

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्‍लॉग के माध्‍यम से कांग्रेस पर हमला किया है. अपने ब्‍लॉग 'जब एक मुट्ठी नमक ने अंग्रेजी साम्राज्य को हिला दिया' में कांग्रेस पर तीखा वार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने महात्मा गांधी के विचारों के विपरीत काम किया. महात्‍मा गांधी आजादी के बाद कांग्रेस को समाप्‍त करने के पक्षधर थे. हमारी सरकार महात्मा गांधी के बताए रास्‍ते पर चल रही है.  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने समाज का बंटवार किया. जाति और धर्म की राजनीत की. गरीबों का पैसा हड़प कर कांग्रेसी नेताओं ने अपने बैंक भरे. कांग्रेस और भ्रष्‍टाचार एक सिक्के के दो पहलू हैं. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने राजनीति में परिवारवार को जन्म दिया. कांग्रेस ने लोकतंत्र का अपमान किया. राज्‍यों में संविधान के अनुच्‍छेद 356 का कई बार गलत इस्तेमाल किया. कांग्रेस ने देश को इमरजेंसी दी. कांग्रेस के नेता हमेशा कम्युनल एडजस्टमेंट करते रहे.

महागठबंधन से BJP को नहीं होगा घाटा, मोदी फिर बनेंगे PM: ज्योतिषाचार्य का दावा

दांडी मार्च
उल्‍लेखनीय है कि 12 मार्च 1930 को महात्‍मा गांधी ने नमक सत्‍याग्रह के रूप में दांडी मार्च शुरू किया था. इसी पृष्‍ठभूमि में पीएम मोदी ने अपना ब्‍लॉग लिखा है. दांडी मार्च को भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अहम पड़ाव के रूप में माना जाता है. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने इस दिन अहमदाबाद स्थित साबरमती आश्रम से नमक सत्याग्रह के लिये दांडी यात्रा शुरू की थी. इस मार्च के जरिए बापू ने अंग्रेजों के बनाए नमक कानून को तोड़कर उस सत्ता को चुनौती दी थी जिसके बारे में कहा जाता था कि उसके साम्राज्य में कभी सूरज नहीं डूबता है.

लोकसभा चुनाव: ओमप्रकाश राजभर के बदले तेवर, कहा- '2019 में मोदी जी फिर बनेंगे PM'

पीएम मोदी के गृह राज्य से लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंकेगी कांग्रेस
पीएम मोदी ने यह ब्‍लॉग ऐसे वक्‍त पर लिखा है जब कांग्रेस मंगलवार को उनके गृह राज्य गुजरात में अपनी कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में लोकसभा चुनाव के लिए अपनी रणनीति को अंतिम रूप देगी और प्रचार अभियान का बिगुल फूंकेगी. सीडब्ल्यूसी की बैठक का इस मायने में खासा महत्व है कि यह बैठक आम चुनाव के कार्यक्रमों की घोषणा के दो दिन बाद हो रही है.

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस महात्मा गांधी और सरदार पटेल की भूमि से पूरे देश में मजबूत राजनीतिक संदेश देने की कोशिश में हैं. सीडब्ल्यूसी की बैठक से पहले अहमदाबाद में साबरमती आश्रम में एक प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया है. गुजरात में 58 वर्षों के बाद कांग्रेस की सीडब्ल्यूसी की बैठक होने जा रही है. राज्य में सीडब्ल्यूसी की आखिरी बैठक 1961 में हुई थी.

सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद कांग्रेस गांधीनगर में ‘जय जवान, जय किसान’ सभा का आयोजन करेगी जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल हो सकती हैं. पाटीदार नेता हार्दिक पटेल भी इसी सभा के दौरान कांग्रेस में शामिल होंगे.

(इनपुट: एजेंसी भाषा से भी)