• 0/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    0बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    0कांग्रेस+

  • अन्य

    0अन्य

उमा भारती के बयान पर बोलीं साध्वी प्रज्ञा- उमा दीदी के मन में मेरे लिए बहुत सम्मान है

केंद्रीय मंत्री उमा भारती के खुद को महान संत बताने पर साध्वी प्रज्ञा ने उमा भारती का आभार व्यक्त किया है और उन्हें बड़ी बहन जैसा बताया है. उमा भारती के बयान पर साध्वी प्रज्ञा का कहना है कि 'उमा दीदी मुझसे बड़ी हैं, लेकिन फिर भी वह मुझे बहुत सम्मान देती हैं.'

उमा भारती के बयान पर बोलीं साध्वी प्रज्ञा- उमा दीदी के मन में मेरे लिए बहुत सम्मान है
साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः खजुराहो लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार विष्णुदत्त शर्मा का प्रचार करने कटनी पहुंचीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की नेता और केंद्रीय मंत्री उमा भारती के खुद को महान संत बताने पर साध्वी प्रज्ञा ने उमा भारती का आभार व्यक्त किया है और उन्हें बड़ी बहन जैसा बताया है. उमा भारती के बयान पर साध्वी प्रज्ञा का कहना है कि 'उमा दीदी मुझसे बड़ी हैं, लेकिन फिर भी वह मुझे बहुत सम्मान देती हैं. उनके मन में मेरे लिए बहुत अच्छा स्थान है, उमा दीदी बहुत सरल हृदय की हैं.' इस दौरान उन्होंने विपक्ष को निशाने पर लेते हुए उस पर आतंकवाद को संरक्षण देने का आरोप लगाया है. साध्वी प्रज्ञा ने अपने बयान में कहा कि 'विपक्ष हमेशा से ही आतंकवाद को संरक्षण देते आया है. वह आतंकवाद को सम्मान देते हैं और साधू-संतों को प्रताड़ित करते हैं.'

साध्वी प्रज्ञा पर उमा भारती का बयान
दरअसल, हाल ही में खजुराहो संसदीय क्षेत्र में बीजेपी उम्मीदवार के प्रचार के लिए पहुंचीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की नेता और केंद्रीय मंत्री उमा भारती से जब पूछा गया कि क्या मध्य प्रदेश की राजनीति में साध्वी प्रज्ञा उनकी जगह ले सकती हैं तो उन्होंने इसके जवाब में कहा था कि 'मेरी तुलना साध्वी प्रज्ञा से मत करो, मैं उनकी तुलना में बेहद साधारण और मूर्ख प्राणी हूं.' हालांकि कई लोगों ने उनके इस बयान को उनका साध्वी प्रज्ञा पर तंज कहा था, लेकिन उमा भारती के इस बयान से साध्वी प्रज्ञा बेहद खुश हैं.

बता दें बुंदेलखंड में उमा भारती काफी लोकप्रिय हैं और वर्तमान में झांसी से सांसद हैं. ऐसे में खजुराहो में भी वह काफी लोकप्रिय हैं, जिसके चलते वह बीजेपी प्रत्याशी वीडी शर्मा के प्रचार के लिए यहां पहुंची थीं. बता दें खजुराहो लोकसभा क्षेत्र में बाहरी उम्मीदवार को टिकट देने पर भाजपा कार्यकर्ता और यहां की काफी काफी विरोध कर रही है, जिसके चलते भाजपा ने उमा भारती को खजुराहो के भाजपा कार्यकर्ताओं को समझाने का जिम्मा सौंपा है.