close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

17 साल की उम्र में विंबलडन जीतने वाले बोरिस बेकर उधार चुकाने के लिए नीलाम करेंगे ट्रॉफी और...

जर्मनी के बोरिस बेकर ने अपने टेनिस करियर के दौरान 6 ग्रैंडस्लैम सहित 49 खिताब जीते थे 

17 साल की उम्र में विंबलडन जीतने वाले बोरिस बेकर उधार चुकाने के लिए नीलाम करेंगे ट्रॉफी और...
जर्मनी के बोरिस बेकर ने पहला खिताब 1985 में जीता था. (फोटो: IANS)

लंदन: महज 17 साल की उम्र में विंबलडन (Wimbledon) जीतने वाले टेनिस स्टार बोरिस बेकर (Boris Becker) इन दिनों पाई-पाई को मोहताज हैं. जर्मन स्टार की स्थिति का अंदाज इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने उन्हें अपने उधार का बड़ा हिस्सा चुकाने के लिए अपनी ट्राफियों और स्मृतिचिन्हों को ऑनलाइन नीलाम करना पड़ रहा है. नीलामी की प्रक्रिया 11 जुलाई को होगी. 51 साल के बेकर ने 2017 में ही खुद को दीवालिया घोषित कर दिया था. 

बोरिस बेकर ने नीलामी के लिए ब्रिटिश फर्म वेलेस हार्डी को चुना है, जिसके पास ऑनलाइन नीलामी की विशेषज्ञता है. वेलेस हार्डी की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक बेकर ने नीलामी के लिए 82 चीजों का चयन किया है. इनमें उनके मेडल, कप, घड़ियां और फोटोग्राफ शामिल हैं. 

यह भी देखें: VIDEO: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले से पहले इंग्लैंड की इस तरह मदद कर रहे हैं अर्जुन तेंदुलकर

रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि ऑनलाइन नीलामी से भी उनकी मुश्किल आसान नहीं होगी क्योंकि उन पर लाखों पाउंड का उधार है. छह बार के ग्रैंड स्लैम विजेता ने अपने टेनिस करियर के दौरान 49 खिताब जीते थे और इन सबके लिए उन्होंने कुल 2 करोड़ यूरो की पुरस्कार राशि जीती थी. 

बता दें कि बोरिस बेकर ने पहली बार 1985 में विंबलडन का खिताब जीता था. तब उनकी उम्र महज 17 साल थी. उन्होंने यह खिताब जीतकर सबसे कम उम्र में विंबलडन जीतने का रिकॉर्ड बनाया था, जो आज भी कायम है.