IPL 2019: जानिए कैसे तीखी और दिलचस्प होती जा रही है प्लेऑफ की जंग
topStories1hindi521881

IPL 2019: जानिए कैसे तीखी और दिलचस्प होती जा रही है प्लेऑफ की जंग

आईपीएल में सोमवार को हैदराबाद की टीम जीत से मजबूत होती लग रही है वहीं इस नतीजे से नीचे की बाकी टीमों की मुश्किलें बढ़ गई हैं.

IPL 2019: जानिए कैसे तीखी और दिलचस्प होती जा रही है प्लेऑफ की जंग

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन में हैदराबाद और पंजाब के बीच सोमवार को हुए मैच के नतीजे ने प्वाइंट टेबल के गणित की रोचकता को बढ़ा दिया है. इस नतीजे की खास बात यह है कि इसने दोनो टीमों की संभावनाओं के साथ दूसरी टीमों के प्लेऑफ में पहुंचने के गणित पर भी असर डाल दिया है. इसमें नीचें की टीमें पर ज्यादा असर हुआ है. वहीं ऊपर की टीमों को लेकर आगे के मैच ही सही स्थिति बना पाएंगे.  

क्या अब बाहर हो ही गई है बेंगलुरू की टीम?
इस टूर्नामेंट में लगातार पहले छह मैच हारने वाली बेंगलुरू की टीम के बारे में कई बार घोषणा हो चुकी है कि वह बाहर हो गई है. इसके बाद कोई न कोई गणित सामने आता रहा है कि बेंगलुरू का प्लेऑफ में पहुंचना कैसे मुमकिन है. इस भ्रम को दूर करने का सबसे आसान तरीका एक ही है. (यह पिछले कई मैचों में भी कारगर रहा है). बेंगलुरू के अभी 8 अंक हैं और दो मैचों में जीत के बाद उसके 12 अंक हो जाएंगे. अगर उसकी प्लेऑफ में जगह बननी है तो चौथे स्थान से लेकर 7वें स्थान तक काबिज सभी टीमों के 12 या उससे कम अंक होना बहुत जरूरी है. उसके बाद उनका (12 अंकों वाली टीमों का) नेट रनरेट बेंगलुरू से कम होना चाहिए.

यह भी पढ़ें: VIDEO: जब खलील ने कप्तान विलियमसन को बीच मैदान पर चूमा, ये थी खास वजह

क्या ये मुमकिन है अब?
हैदराबाद के 12 अंक हो चुके हैं लेकिन उसका नेट रनरेट +0.709 बहुत ज्यादा है. हैदराबाद की एक जीत बेंगलुरू को बिना किसी गणित के बाहर कर देगी. वहीं पंजाब और राजस्थान में से एक टीम भी अपने दोनों मैच जीतकर बेंगलुरू को औपचारिक तौर पर बाहर कर देंगी. ऐसे में विराट कोहली के फैंस इस बात संभावनाएं तलाश रहे होंगे कि अब बेंगलुरू के लिए क्या गुंजाइश है. 

Point Table 30 APR

क्या हैदराबाद ने बाहर ही कर दिया है बेंगलुरू को?
हैदराबाद को अब मुंबई और बेंगलुरू से मैच खेलना है. ये दोनों मैच उसे अपने घर में नहीं खेलने हैं. इन दोनों ही मैचों में हैदराबाद को तगड़ी हार चाहिए. खासकर बेंगलुरू के खिलाफ तब ही बेंगलुरू का भला होने की संभावना है. कोलकाता और पंजाब के बीच एक मैच होना है. जीतने वाली टीम अगर अपना दूसरा मैच हारती है तो दोनों ही टीमें बेंगलुरू के मुकाबले में आएगी. वहीं राजस्थान मंगलवार को बेंगलुरू से हारने पर बेंगलुरू के मुकाबले में आ जाएगी. इन तमाम बातों के बाद बेंगलुरू की संभावनाएं नेट रनरेट पर अटक जाएंगी. यहां हैदराबाद से पार पाना उसके लिए बहुत ही मुश्किल (इसे नामुमकिन भी पढ़ सकते हैं) है क्योंकि नेट रनरेट में सबसे तगडा मुकाबला बेंगलुरू का हैदराबाद से ही होगा. अब यह फैसला आंकलन करने वाला हर शख्स खुद ही ले सकता है कि बेंगलुरू बाहर हो गई है या नहीं.

यह भी पढ़ें: B'day Special: जानिए किससे पति रोहित को शेयर करने को तैयार हो गई थीं पत्नी रितिका

चौथे स्थान के लिए होने वाली है आर पार की लड़ाई
फिलहाल हर टीम के 12 मैच हो चुके हैं. दिल्ली और चेन्नई (16 अंक) शीर्ष दो स्थान पर हैं. मुंबई 14 अंक के साथ तीसरे स्थान पर है और हैदराबाद 12 अंकों के साथ चौथे स्थान पर हैं. अगर सारे अगर मगर देखे जाएं तो नीचे की छह टीमें तीसरे और चौथे स्थान के लिए आर पारी की लड़ाई पर आ गई हैं. मुंबई हैदराबाद भले ही अभी मजबूत दिखें लेकिन उनके भी प्लेऑफ से बाहर होना नामुमकिन नहीं है, इसलिए उन्हें भी प्लेऑफ में जगह बनाने की कोशिश अभी जारी रखनी है. 

आने वाले ये मैच करेंगे कुछ इस तरह के फैसले
 मंगलवार को बेंगलुरू राजस्थान के मैच में बेंगलुरू हार कर प्लेऑफ से औपचारिक तौर पर बाहर हो सकती है. और राजस्थान हार कर बेंगलुरू की कुछ मदद कर सकती है. बुधवार को चेन्नई और दिल्ली के बीच का मैच टॉप टीम का फैसला करने में मददगार होगा. गुरुवार को मुंबई हैदराबाद के बीच होने वाला मैच तय करेगा कि दोनों में कौन सी टीम नंबर तीन की बेहतर दावेदार होगी. शुक्रवार पंजाब और कोलकाता के बीच होने वाले मैच में हारने वाली टीम बेंगलुरु के समकक्ष आ जाएगी और उसे बेंगलुरू से नेट रनरेट का मुकाबला करना होगा. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: जब भुवी बने कैमरामैन और वार्नर ने बताया कैसे हैदराबाद बना उनका दूसरा घर

इसके बाद के मैचों के बारे में कुछ कहना अभी कयास ही होगा. प्वाइट टेबल में प्लेऑफ की जंग का रोमांच विदेशी खिलाड़ियों की विदाई भी बदल रही है. हैदराबाद और राजस्थान इसके उदाहरण हैं. 

Trending news