IPL Auction: क्या कह रहे हैं इस बार खरीदारी के रुझान, खास तैयारी से आई थीं फ्रेंचाइजी
topStorieshindi

IPL Auction: क्या कह रहे हैं इस बार खरीदारी के रुझान, खास तैयारी से आई थीं फ्रेंचाइजी

IPl 2020 Auction: तेज गेंदबाज और ऑलराउंडर्स पर इस बार  टीम फ्रेंचाइजीस ने सबसे ज्यादा दिलचस्पी दिखाई. 

IPL Auction: क्या कह रहे हैं इस बार खरीदारी के रुझान, खास तैयारी से आई थीं फ्रेंचाइजी

 नई दिल्ली: 12 साल बाद इंडियन प्रीमियर लीग ( Indian Premier League) की नीलामी (IPL Auction) पहली बार कोलकाता में शुरू हुई. इस बार नीलामी की नई जगह के साथ ही कुछ ट्रेड्स खास तौर पर नजर आए. नीलामी शुरू होने के तीन घंटे के बाद तक सबसे ज्यादा चर्चा में ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस की नीलामी रही जो 15.50 करोड़ रुपये में बिके. इस नीलामी के ट्रेंड्स कई बातें बता रहे हैं. 

तैयारी से आई थीं फ्रेंचाइजी
पिछले कुछ सालों में टीम फ्रेंचाइजी ने अपने अनुभवों का पूरा फायदा उठाने की कोशिश है और उनकी नजर लगातार हर खिलाड़ी पर रही हैं. इस बार की नीलामी में सबसे खास बात यह रही है. इस बार फ्रेंजाइजी ने खिलाड़ियों पर फैसले लेने में समय नहीं लगाया और सभी फ्रेंचाइजी की पसंद नापसंद समान ही रही. यानि जिस खिलाड़ी पर बोली लगनी शुरू हुई तो उस पर बाकी फ्रेंचाइजी ने भी बोली लगाईं. जबकि अनसोल्ड खिलाड़ियों की भी कमी नहीं रही. 

यह भी पढ़ें: IPL 2020: मोर्गन को करोड़ों में खरीदने पर बोले कोच, नहीं बदलेगा कोलकाता का कप्तान

किस तरह के खिलाड़ियों पर लगी ज्यादा बोली
पहले ही तय हो गया था कि इस बार जोर विदेशी खिलाड़ियों पर होगा क्योंकि भारतीय खिलाड़ी पहले ही रीटेन किए जा चुके थे. इस बार सबसे ज्यादा बोली तेज गेंदबाजों पर लगी. वहीं ऑलराउंडर्स पर भी तेज नजर रहीं. पहले राउंड में वैसे तो बल्लेबाजों पर ज्यादा जोर नहीं था. लेकिन इयोन मोर्गन और शिमरोन हेटमायर पर भी बल्लेबाजों के तौर पर ज्यादा बोली लगी. इसके अलावा बल्लेबाजों को फ्रेंचाइजी ने पहले ही रीटेन कर लिया था तो यहां बल्लेबाजों पर ज्यादा जोर नहीं दिखा. 

ऑलराउंडर में छाए ये खिलाड़ी
ऑलराउंडर ने ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल सबसे चर्चित खिलाड़ी रहे जिन्हें पंजाब ने 10.75 करोड़ रुपये में खरीदा. लेकिन पहले जिस खिलाड़ी का नाम नीलामी में सामने आया वे थे क्रिस लिन. क्रिस को मुंबई ने बेस प्राइस में पहली बोली लगाई लेकिन उसके बाद किसी ने उनमें दिलचस्पी नहीं दिखाई. इसके बाद क्रिस मॉरिस को बेंगलोर ने उनके लिए 10 करोड़ में खरीदा.

गेंदबाजों की भी रही मांग
वहीं गेंदबाजों की बात करें तो पैट कमिंस का 15.5 करोड़ में कोलकाता का खरीदना चर्चा में रहा. तो नाथन कुल्टर नाइल को मुंबई ने 8 करो़ड़ में खरीदा. तो शेल्डन कॉट्रेल 8 करोड़ में पंजाब की टीम में गए. जयदेव उनादकट 3 करोड़ में राजस्थान के खाते में गए. जोश हेजलवुड को चेन्नई ने दो करोड़ में खरीदा.

तो फिर क्या असर दिखेगा इसका नए सीजन में
कुछ खास तो नहीं, हां अब इस सीजन में भी गेंदबाजों पर ज्यादा जोर दिखेगा, यह तय है.  पिछले कुछ सीजन में गेंदबाजों ने अहम भूमिका निभाना शुरू कर दिया है. जो पिछले सीजन में भी खास तौर पर दिखाई दिया. पिछला फाइनल मैच तक गेंदबाजों का खास भूमिका वाला मैच रहा. कई लो स्कोरिंग मैच देखने को मिले जहां गेंदबाजों का रोल ज्यादा था. यह इस बार भी देखने को मिले तो हैरानी नहीं होगी. 

Trending news