शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्राथमिकता से कार्य कर रही है राज्य सरकार: सुभाष गर्ग

नई मशीन आने के बाद रोगियों को एक्स-रे नहीं होने की समस्या से निजात मिल जाएगी. उन्होंने बताया कि भरतपुर में आगामी वर्ष में 10 जनता क्लीनिक शुरु किए जाएंगे. 

शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्राथमिकता से कार्य कर रही है राज्य सरकार: सुभाष गर्ग
भरतपुर में आगामी वर्ष में 10 जनता क्लीनिक शुरु किए जायंगे.

देवेंद्र सिंह, भरतपुर: तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कहा है कि राज्य सरकार शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्राथमिकता से कार्य कर रही है. विशेष रूप से चिकित्सा के क्षेत्र में 31 नए मेडिकल कॉलेज खोलने की कार्य योजना मूर्तिरूप होने जा रही है.

साथ ही प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर उपचार की समुचित व्यवस्था की जाएगी. डॉ. गर्ग रविवार को राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई रक्त वाहिनी बस एवं दानदाता द्वारा प्रदान की गई नवीन एक्स-रे मशीन के लोकार्पण के बाद मीडिया से बात कर रहे थे. गर्ग ने कहा कि भरतपुर के मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल को संभाग का राज्य स्तरीय चिकित्सालय बनाया जाएगा ताकि रोगियों जयपुर नहीं जाना पड़े. उन्होंने कहा कि चिकित्सालय के लिए दानदाताओं के सहयोग से आगामी दो माह में नई सी-आर्म मशीन मुहैया कराई जाएगी, जिससे हड्डी रोगों के ऑपरेशन आसानी से हो सकेंगे. इसके अलावा एमआरआई एवं नई सीटी स्कैन मशीन भी आगामी वर्ष में उपलब्ध करा दी जाएगी.

चिकित्सा राज्य मंत्री ने विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना कर एक्स-रे एवं रक्त वाहिनी का लोकार्पण किया और रक्त वाहिनी में दो रक्त दाताओं के रक्त दान का भी शुभारंभ किया. मंत्री गर्ग ने एक्स-रे मशीन उपलब्ध कराने पर डॉ. अशोक का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि नई मशीन आने के बाद रोगियों एक्स-रे नहीं होने की समस्या से निजात मिल जाएगी. उन्होंने बताया कि भरतपुर में आगामी वर्ष में 10 जनता क्लीनिक शुरु किए जाएंगे. 

इसके लिए यदि आवश्यक हुआ तो इन क्लीनिकों के संचालन के लिए विधायक निधि से राशि मुहैया कराई जाएगी. उन्होंने अस्थि रोग विशेषज्ञों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सी-आर्म मशीन को जान-बूझकर खराब किया तो उनके खिलाफ कार्रवाही की जाएगी. उन्होंने कहा कि हम सब को मिलकर यह प्रयास करना होगा कि चिकित्सालय में आने वाले गरीब रोगियों को उचित उपचार मिले. उन्होंने सी-आर्म मशीन उपलब्ध कराने के लिए डॉ. अशोक गर्ग एवं डॉ. अशोक गुप्ता से आग्रह किया कि वे मिलकर मशीन मुहैया कराएं.

कार्यक्रम में राजकीय मेडिकल कॉलेज की प्राचार्या डॉ. रचना नारायण ने विश्वास दिलाया कि चिकित्सालय में अधिकतम चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराने का प्रयास किया जा रहा है, जिसमें राज्य सरकार के साथ दान-दाताओं का सहयोग भी लिया जा रहा है. चाईल्ड वेलफेयर हॉस्पिटल के प्रबन्धक डॉ. अशोक गर्ग ने कहा कि गरीब रोगियों की सेवा के लिए एक्स-रे मशीन चिकित्सालय को उपलब्ध कराई है. दिशा फाउंडेशन के निदेशक दिनेश सिंह ने भी अपने विचार व्यक्त किए. इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कप्तान सिंह, कार्यवाहक प्रमुख चिकित्साधिकारी डॉ. रूपेंद्र झा सहित चिकित्सालय के सभी वरिष्ठ चिकित्साधिकारी उपस्थित थे.