public provident fund

सिर्फ 100 रुपये निवेश करके आप कमा सकते हैं 54 लाख रुपये, जानिए PPF स्कीम के फायदे

पीपीएफ (PPF) एक  स्मॉल सेविंग्स स्कीम है. यह सरकार द्वारा समर्थित सेविंग स्कीम है. इस स्कीम में निवेश करके आप हर साल 1.5 लाख रुपये का आयकर भी बचा सकते हैं.  पुराने टैक्स स्लेब का चयन पर आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत इसमें टैक्स छूट का प्रावधान है.

Jun 19, 2020, 08:48 AM IST

PPF में 250 रुपये रोजना के निवेश से बन सकते हैं लखपति, 25 साल के बाद मिलेगी इतनी रकम

ब्लिक प्रोवीडेंट फंड (पीपीएफ) को हमेशा से लंबे समय के लिए निवेश करने वाला फंड माना गया है, जिसका रिटायरमेंट के बाद इस्तेमाल किया जा सकता है.

मई 30, 2020, 05:51 PM IST

जानें क्यों फायदेमंद है PPF में निवेश, साथ ही जानें क्या हैं इसके नुकसान

 निवेश, ब्याज और रकम तीनों पर टैक्स छूट मिलती है.

मई 2, 2020, 12:38 PM IST

Video : PPF अकाउंट में फिर हुए बदलाव, नहीं खुलवाया जा सकता ज्वाइंट अकाउंट

केंद्र सरकार ने पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) को लेकर कुछ नए बदलाव किए हैं. जिसमें कोई भी व्यक्ति फॉर्म- 1 के जरिए आवदेन देकर एक अकाउंट खोल सकता है.

Dec 17, 2019, 07:40 PM IST

3 तरह के होते हैं Provident Fund, जानें तीनों के बीच अंतर और कितना मिलता है लाभ

EPF, PPF और GPF तीन अलग-अलग तरह के सेविंग्स हैं. तीनों पर ब्याज की दर भी अलग-अलग है

मई 16, 2019, 07:00 AM IST

अगर आपने भी खुलवाए हैं दो PPF अकाउंट, तो जान लीजिए इसके नुकसान

लॉन्ग टर्म के निवेश में Public Provident Fund (PPF) बहुत अच्छा विकल्प है, लेकिन ट्रांसफर या किसी दूसरी वजह से अगर आपको अपना PPF खाता मैनेज करने में दिक्कत हो रही है तो क्या आप एक नया PPF खाता खुलवा सकते हैं?

Feb 6, 2019, 08:25 AM IST

PPF से पैसे निकालना चाहते हैं? ये नियम जानना आपके लिए है जरूरी

पीपीएफ में निवेश की अवधि यानी लॉक इन पीरियड 15 साल है, लेकिन आप समय से पहले भी पीपीएफ खाते में जमा पैसे में से आंशिक राशि को निकाल सकते हैं

Sep 16, 2018, 05:34 PM IST

जानना जरूरी है: छोटी योजनाओं पर घटकर अब कितना हो गया है ब्याज?

सरकार ने लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) पर ब्याज दर को 8.7 फीसदी से कम कर 8.1 प्रतिशत करने के साथ अधिकांश लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कटौती कर दी। पीपीएफ के साथ ही किसान विकास-पत्र पर ब्याज दर  8.7 प्रतिशत से कम कर 7.8 प्रतिशत कर दी गई है। इसके साथ ही डाकघर सावधि जमा योजनाओं की ब्याज दरें भी कम की गई हैं जो 1 अप्रैल से प्रभावी होगी।

Mar 22, 2016, 11:06 AM IST