close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

success

पढ़ाई के तनाव से बचने के लिए कॉफ़ी विद कलेक्टर कार्यक्रम

कोटा: छात्रों पर पढ़ाई का तनाव होता है और छात्र इसी तनाव के चलते मौत को गले लगा लेते हैं... इसी समस्या के समाधान के लिए कोटा कलेक्टर ने कोटा के छात्रों से सीधा संवाद करने की पहल की ओर कोटा के तकरीबन हर कोचिंग के कुछ छात्रों को बुलाया गया और उनके साथ किया गया कॉफ़ी विद कलेक्टर कार्यक्रम

Nov 12, 2019, 09:06 PM IST

राशिफल 13 अक्टूबर: जानें किन 7 राशिवालों को आज मिल सकती है बड़ी कामयाबी

ग्रहों की रोज बदलती चाल के कारण ही हमारा रोज का दिन भी अलग होता है.

Oct 13, 2019, 07:14 AM IST

जानिए UPPCS टॉपर्स की जीत का मंत्र, कामयाबी की कहानी-टॉपर्स की जुबानी

UPPSC 2017 का रिजल्ट घोषित किया जा चुका है। इस परीक्षा में प्रतापगढ़ निवासी अमित शुक्ला ने टॉप किया, तो वहीं दूसरे स्थान पर प्रयागराज के अनुपम मिश्रा और तीसरे पर प्रतापगढ़ की मीनाक्षी पांडेय ने अपना परचम लहराया।

Oct 11, 2019, 06:24 PM IST

राशिफल 21 सितंबर: जानें किन राशिवालों के लिए शुभ है आज का दिन और किन्हें रहना होगा सावधान

ज्योतिष विज्ञान के अनुसार कौन सा ग्रह और नक्षत्र आपकी कुंडली के कौन से घर में जा रहा है, इसके मुताबिक आपका जीवन प्रभावित होता है.

Sep 21, 2019, 07:11 AM IST

State of States: ISRO चीफ की 'देशभक्ति'

इसरो चीफ के सिवन तमिलनाडु के एक छोटे से गांव में पले-बढ़े एक किसान के बेटे हैं.सरकारी स्कूल से पढ़कर इसरो चीफ की कुर्सी तक पहुंचे. के सिवन ने अतंरिक्ष में भारत को आज एक नई पहचान दिलाई है.लेकिन इसके बावजूद वो खुद को तमिल से पहले भारतीय कहते हैं.

Sep 11, 2019, 08:49 PM IST

News Maker: ISRO ना रूका है ना रूकेगा...

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ISRO ने चंद्रयान-2 को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतारकर इतिहास रच दिया.इसरो की कामयाबी का देश नहीं पूरी दुनिया में डंका बज रहा है.कई देशों से हमारे वैज्ञानिकों को बधाइयां मिल रही हैं.

Sep 9, 2019, 10:42 PM IST

राशिफल 06 सितंबर: ग्रहों की बदलती चाल, जानें किन राशिवालों के लिए शुभ है आज का दिन

ग्रहों की रोज बदलती चाल के कारण ही हमारा रोज का दिन भी अलग होता है. कभी हमें कामयाबी मिलती है तो कभी दिन सामान्य गुजरता है. 

Sep 6, 2019, 07:11 AM IST

छोटी-छोटी नाकामियों से निराश हैं, तो डिजिटल कवि युद्ध का ये वीडियो जरूर देखें

कभी-कभी हमारे युवा छोटी-छोटी नाकामियों से निराश हो जाते हैं. ऐसे ही युवाओं के लिए डिजिटल कवि युद्ध में राहुल शर्मा (Rahul Sharma) का ये वीडियो देखना जरूरी है. इस शो की होस्ट हैं मशहूर कवयित्री अनामिक जैन अंबर (Anamika Jain Amber).

Jul 30, 2019, 06:40 PM IST

VIDEO: फिल्म की सफलता से खुश हुईं कंगना, मीडिया को दिया धन्यवाद

फिल्म जजमेंटल है क्या बॉक्स ऑफिस पर लगाता है कमाल कर रही है. फैंस का प्यार बॉक्स ऑफिस कलेक्शन पर साफ नजर आ रहा है. इसी को लेकर कंगना ने एक वीडियो जारी किया है. वीडियो में कंगना मीडिया को धन्यवाद देते हुए नजर आईं. वीडियो में कंगना अपने कजिन भाई के साथ नजर आ रही हैं. देखें सोनल सिंह की रिपोर्ट...

Jul 29, 2019, 07:45 PM IST

अफसरों ने 'रौंदा' ... 'सपने का घरौंदा'

पीएम आवास योजना के बाद कच्चे टापरे ने पक्की छत का सपना संयोया था, लेकिन आवेदन को 5 साल से ज्यादा होने के बाद भी, पक्की छत का सपना सरकारी कारिंदों के कागजों में सिमटकर रखा है.

Apr 8, 2019, 09:24 PM IST

हमें तुम पर नाज हैं ....

यूपीएससी में प्रदेश ने अपना परचम लहराया है.....राजस्थान के होनहारों ने पूरे देश में अपने प्रतिभा का लोहा मनवाया है.....कनिष्क कटारिया ने यूपीएससी में नंबर वन रैंक हासिल किया है....अक्षत जैन ने दूसरी और कोटपूतली की रेखा यादव की नौवी रैंक हासिल की है..ज़ी राजस्थान को भी इन होनहारों पर नाज है...

Apr 6, 2019, 10:00 PM IST

हमे तुम पर नाज है ...

ZeeRajasthanNews: देश के सबसे बड़ी परिक्षा में राजस्थान के युवाओं का डंका, यूपीएससी परीक्षा में कनिष्क ने हासिल किया पहला स्थान वही राजस्थान के अक्षत जैन ने हासिल की दूसरी रैंक...

Apr 6, 2019, 08:06 PM IST

राजस्थान: टॉपर्स से जानिए कैसे मिलेगी IAS परीक्षा में सफलता

#ZeeRajasthanNews: देश के सबसे बड़ी परिक्षा में राजस्थान के युवाओं का डंका, यूपीएससी परीक्षा में कनिष्क ने हासिल किया पहला स्थान वही राजस्थान के अक्षत जैन ने हासिल की दूसरी रैंक.... #BREAKING #ZeeRajasthanNews #ZeeRajasthan #ZeeVideo

Apr 6, 2019, 02:24 PM IST

Dear Zindagi: जिंदगी का फूल संघर्ष की धूप के बिना नहीं खिलता

असुविधा, दुख, परेशानी जीवन का हिस्‍सा हैं. इनसे भागना संभव नहीं. जीवन इनके साथ है. इनके बिना नहीं. इसलिए, इनका हिस्‍सा बनकर जीना है. जिंदगी का फूल संघर्ष की धूप के बिना नहीं खिलता, इसे हमें बहुत अच्‍छी तरह समझना, बच्‍चों को समझाना है. इसके तनाव, निराशा के भाव से सहजता से निपटा जा सकता है!

Feb 18, 2019, 06:45 PM IST

डियर जिंदगी: दुख को संभालना सीखिए. जिंदा रहिए!

बेटियां पराया धन होती हैं! उनके कन्‍यादान से कर्तव्‍य पूरा हुआ जैसे वाक्‍य जब तक समाज के विमर्श में रहेंगे, लड़कियों, शादीशुदा महिलाओं की आत्‍महत्‍या की दर को कम कर पाना आसान नहीं होगा. युवकों को असल में शिक्षित, आधुनिक नारी के अनुकूल बनाने का काम जब तक पूरा नहीं होगा, आत्‍महत्‍या को रोकना संभव नहीं होगा!

Feb 12, 2019, 12:35 PM IST

डियर जिंदगी: प्रेम कीजिए, खूब कीजिए. लेकिन अपनी कीमत पर नहीं

प्रेम सहज, स्‍वाभाविक भावना है! लेकिन अगर इसमें पाइथागोरस प्रमेय की तरह दिमाग लगाया जाए, तो जिंदगी सुनामी की चपेट में आ जाती है. खतरों से सावधान करने वाली चेतावनी सुनाई ही नहीं देती!

Feb 6, 2019, 10:35 PM IST

डियर जिंदगी: बच्‍चों के साथ 'जंगल' की तरह व्‍यवहार करना है, 'सर्कस' की तरह नहीं

बच्‍चों को अपने जैसा नहीं बनाना. बात अजीब लग सकती है! बेतुकी लग सकती है. लेकिन जब हम एक पटरी पर चलने के अभ्‍यस्‍त हो जाते हैं तो अक्‍सर ऐसा ही होता है. माता-पिता का सबसे बड़ा संकट बच्‍चों पर नियंत्रण को लेकर है. हम बच्‍चों को आसमां में उड़ाने की बात तो करते हैं लेकिन ऐसा करते हुए उनकी दिशा पर अपना अधिकार रखते हैं! हम भूल जाते हैं कि बच्‍चे हमसे हैं, लेकिन हमारे लिए नहीं हैं!

Jan 31, 2019, 05:10 PM IST

Dear जिंदगी: मन को पीपल के पत्ते की तरह हल्का रखना है

Dear Zindagi: Forgive and forget, only then can we live in peace. Watch the video to know more.

Jan 26, 2019, 09:10 PM IST

Dear जिंदगी: सुसाइड के भंवर से बचे बच्‍चे की चिट्ठी!

परीक्षा का दौर आरंभ हो चुका है. प्री-बोर्ड के माध्‍यम से बोर्ड की तैयारी की बात से सहमत होना मुश्किल है. यह ऐसा है, जैसे तनाव से पहले तनाव देकर उसकी तैयारी कराना! कुछ दिन पहले हमारे मेहमान अपने दसवीं कक्षा के बच्‍चों के साथ आए. बच्‍चों के साथ मुझे संवाद का अवसर मिला. थोड़ा आश्‍चर्य हुआ कि एक सुचिंतित, सुलझे हुए दंपति के बच्‍चों पर भी तनाव के बादल मंडरा रहे थे. बच्‍चों के चेहरे पर परीक्षा का तनाव महसूस किया जा सकता था. यह दंपति न तो बच्‍चों से किसी तरह की अनावश्‍यक अपेक्षा रखते हैं, न ही उन पर कोई दबाव डालते हैं, उसके बाद भी बच्‍चों के मन पर तनाव की छाया चिंतित करने वाली है

Jan 22, 2019, 08:25 PM IST

Dear ज़िंदगी: "बच्‍चे को स्‍कूल में मिलने वाले नंबर उसकी सफलता, असफलता का सही पैमाना नहीं हैं"

युवा, बच्‍चे जिन चीज़ों से सबसे अधिक परेशान दिखते हैं, उनमें अतीत, आगे का डर और हमारी सीमाएं (खुद के बारे में बनाई गई धारणा) प्रमुख हैं. इस बात को बार-बार दोहराने की जरूरत है कि बच्‍चे को स्‍कूल में मिलने वाले अंक उसकी सफलता, असफलता का सही पैमाना नहीं हैं. स्‍कूल के प्रदर्शन को पैमाना बनाने का सबसे खराब परिणाम यह है कि केवल कुछ बच्‍चे ही होशियार साबित होते हैं. हर साल स्‍कूल से निकलने वाले बच्‍चों में अधिकांश बच्‍चे इस मनोदशा के साथ निकलते हैं कि वह तो पढ़ने में कमजोर थे! ठीक नहीं थे. बहुत अच्‍छे नहीं थे! यह किसी एक स्‍कूल की बात नहीं . हर साल लाखों स्‍कूलों के बच्‍चे इस मानसिक स्थिति से गुजरते हैं. स्‍कूल बच्‍चे की दुनिया बनाने, उसमें रंग भरने की जगह बच्‍चे को अपने सपनों में रंगने की कोशिश में लगे रहते हैं! इस प्रक्रिया में कला, संगीत, खेल में रुचि रखने वाले बच्‍चे निरंतर पिछड़ते रहते हैं.

Jan 18, 2019, 03:15 PM IST